INDIA v/s ENGLAND, 307/6

0
281

Trent Bridge, Nottingham, Day-01

इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में टीम इंडिया के उपकप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे का बल्‍ला अब तक खामोश था. सीरीज के पहले दो टेस्‍ट की चार पारियों में नाकाम रहने के कारण उन पर दबाव बढ़ता जा रहा था. रहाणे ने शनिवार को न केवल अर्धशतक बनाया बल्कि कप्‍तान विराट कोहली के साथ शतकीय साझेदारी करते हुए टीम इंडिया के स्‍कोर को सम्‍मानजनक बनाने में भरपूर योगदान दिया. मैच को अपने लिए खास बनाते हुए उन्‍होंने टेस्‍ट क्रिकेट में 3000 रन भी पूरे किए. 

उनका अर्धशतक 76 गेंदों पर सात चौकों की मदद से पूरा हुआ.  रहाणे यहीं नहीं रुके. पारी के 59वें ओवर में उन्‍होंने ब्रॉड को चौका जमाते हुए टेस्‍ट क्रिकेट में अपने तीन हजार रन पूरे किए. इसमें 9 शतक और 13 अर्धशतक शामिल हैं. मुंबई के इस मध्‍यक्रम के बल्‍लेबाज ने 81वीं पारी में 3000 रन का आंकड़ा छुआ है. यह उनका 48वां टेस्‍ट है. रहाणे की ही तरह टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गुंडप्‍पा विश्‍वनाथ भी 81 पारियों में ही 3000 टेस्‍ट रन तक पहुंचे थे. दिलीप वेंगसरकर और विजय मांजरेकर 88वीं पारी में तीन हजार टेस्‍ट रन तक पहुंचे थे. रहाणे आखिरकार 81 रन बनाने के बाद आउट हुए.

रहाणे जब बल्‍लेबाजी के लिए उतरे तब टीम इंडिया 82 रन पर तीन विकेट गंवाकर मुश्किल स्थिति में नजर आ रही थी. पहले विकेट के लिए धवन और राहुल के बीच 60 रन की साझेदारी के बाद दोनों ही ओपनर जल्‍दी-जल्‍दी पेवेलियन लौट गए. टीम इंडिया की मुश्किलें तब और बढ़ गईं जब लंच के ठीक पहले अति महत्‍वाकांक्षी स्‍ट्रोक खेलने के चक्‍कर में चेतेश्‍वर पुजारा (14) भी पेवेलियन में जा बैठे. लंच के बाद कप्‍तान कोहली का साथ देने के लिए रहाणे क्रीज पर उतरे. शुरुआती कुछ गेंदें उन्‍होंने विकेट का मिजाज पढ़ने में लगाईं और फिर सेट होने के बाद बेहतरीन पारी खेली.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here