Ind vs Aus- धवन और राहुल दोनों को जगह देने के लिए विराट खुद बल्लेबाजी क्रम में नीचे आ सकते हैं।

कोहली ने कहा कि उनके लिए निजी उपलब्धियों के पीछे भागने की जगह यह अधिक महत्वपूर्ण है कि वह कप्तान के रूप में कैस विरासत छोड़कर जाएंगे।

0
626

India vs Australia ODI Series- ऑस्ट्रेलियाई टीम (Australia Cricket Team) का भारत दौरा 14 जनवरी से शुरू हो रहा है। पहला वन-डे मुंबई में होगा। मंगवार से शुरू हो रही इस सीरीज से ठीक पहले विराट कोहली (Virat Kohli) पत्रकारों से बात करने आए। इस दौरान उन्होंने टीम की रणनीति से लेकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट (Day-Night Test) तक हर मुद्दे पर बेबाकी से अपनी बात रखी। यह सीरीज एक सप्ताह से भी कम यानी 6 दिन में ही खत्म हो जाएगी। यह भारतीय टीम की वर्ष 2020 की पहली वनडे सीरीज भी है।

भारतीय कप्तान ने इशारों ही इशारों में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच की प्लेइंग इलेवन बता दी। विराट की माने तो मुंबई वन-डे में शिखर धवन और केएल राहुल दोनों खेलते नजर आ सकते हैं। उप कप्तान रोहित शर्मा का अंतिम एकादश (Playing 11) में चुना जाना तय है, लेकिन टीम प्रबंधन का धवन या राहुल को चुनने का मुश्किल फैसला करना है। कप्तान को हालांकि ऐसा कोई कारण नजर नहीं आता कि ये दोनों नहीं खेल सकें। धवन और राहुल दोनों को जगह देने के लिए विराट खुद बल्लेबाजी क्रम में नीचे आ सकते हैं।

यह पूछने पर कि क्या वह बल्लेबाजी क्रम में नीचे आ सकते हैं, कोहली ने कहा, ‘हां, इसकी संभावना है। ऐसा करने में मुझे बेहद खुशी होगी। मैं किसी क्रम को अपने लिए तय नहीं किया है। मैं कहां बल्लेबाजी करूं, इसे लेकर मैं असुरक्षित नहीं हूं।’ कोहली ने कहा कि उनके लिए निजी उपलब्धियों के पीछे भागने की जगह यह अधिक महत्वपूर्ण है कि वह कप्तान के रूप में कैस विरासत छोड़कर जाएंगे। कभी अन्य लोग शायद ऐसा नहीं सोचते लेकिन एक कप्तान के रूप में आपका काम मौजूदा टीम को देखना ही नहीं बल्कि वह टीम तैयार करना भी है जो आप किसी और को जिम्मेदारी देते हुए उसे सौंपकर जाओगे।

डे-नाइट टेस्ट पर विराट ने कहा, ‘हम भारत में डे नाइट टेस्ट मैच खेल चुके हैं और अपने प्रदर्शन से खुश हैं। किसी भी टेस्ट सीरीज के लिए यह शानदार फीचर है और हम डे-नाइट टेस्ट के साथ किसी भी चैलेंज के लिए तैयार हैं।’ कोहली ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘देखिए, फार्म में चल रहा खिलाड़ी हमेशा टीम के लिए अच्छा होता है… बेशक आप चाहते हैं कि सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी उपलब्ध रहें और इसके बाद चुनते हैं कि टीम के लिए संयोजन क्या होना चाहिए।’

कोहली ने कहा कि टीम इंडिया किसी के भी खिलाफ, कहीं भी खेलने को तैयार हैं। चाहे वह टेस्ट हो, T-20 हो या फिर वन-डे (One Day) ही क्यों न हो। विपक्षी खिलाड़ियों के बारे में जाने पर कप्तान ने कहा, ‘हां, हम एक-दूसरे की मजबूती और कमजोरी से काफी परिचित हैं। उनके खिलाड़ियों के पास भारत में खेलने का लंबा अनुभव है। उनके प्रमुख खिलाड़ी IPL में हमारे साथ खेलते रहे हैं।’ उल्लेखनीय है कि सीरीज का पहला वनडे मैच 14 जनवरी को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा। दूसरा मैच 17 जनवरी को राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में होगा। आखिरी वन-डे 19 जनवरी को बेंगलुरु के एम चिन्नस्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here