रवींद्र जडेजा को जैसे रनआउट दिया गया उसको लेकर विवाद, कोहली ने नाराजगी जाहिर की।

बाहर बैठे लोग फील्डर को नहीं कह सकते और इसके बाद फील्डर अंपायर से ऐसे किसी फैसला का रिव्यू (Review) करने के लिए नहीं बोल सकते हैं।

0
1491

India vs West Indies 1st ODI- भारतीय टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 287 रन बनाए थे। जवाब में शिमरोन हेटमायर और शाई होप की शतकीय पारी के दम पर वेस्टइंडीज ने 47.5 ओवर में महज 2 विकेट के नुकसान पर जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया। वेस्टइंडीज ने सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली।

भारतीय ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravinder Jadeja) को जैसे रनआउट दिया गया उसको लेकर विवाद हो गया। 48वें ओवर में एक रन चुराने की कोशिश में रवींद्र जडेजा रोस्टन चेज की थ्रो पर रन आउट हो गए। फील्ड अंपायर ने जडेजा को नॉट आउट करार दिया था। वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों ने रन आउट को लेकर ज्यादा अपील भी नहीं की थी लेकिन जाइंट स्क्रीन (Joint Screen) पर रिप्ले देखने के बाद उन्होंने थर्ड अंपायर से रिव्यू की मांग की। 21 गेंद पर 21 रन बनाकर खेल रहे जडेजा को थर्ड अंपायर (Third umpire) ने आउट दिया जिसपर विराट कोहली (Virat Kohli) को भड़क गए।

मैच खत्म होने के बाद जब उनसे इस बारे में सवाल किया गया तो कोहली (Virat Kohli) ने अपनी नाराजगी जाहिर की। कोहली ने कहा “खिलाड़ी ने अंपायर से रन आउट के बारे में पूछा और अंपायर ने इनपर ना कहा। इसको लेकर बात यहीं खत्म हो जानी चाहिए थी। बाहर बैठे लोग फील्डर को नहीं कह सकते और इसके बाद फील्डर अंपायर से ऐसे किसी फैसला का रिव्यू (Review) करने के लिए नहीं बोल सकते हैं। ऐसा क्रिकेट में होते मैंने कभी नहीं देखा। मुझे नहीं पता नियम कहां है। इस बारे में अंपायर और रेफरी को देखना चाहिए। मैदान के बाहर बैठे लोग फील्ड में खेल रहे लोगों को निर्देश नहीं दे सकते और यही कुछ यहां पर हुआ।”

इस मैच में भारतीय टीम का टॉप ऑर्डर (Top Order) नाकाम रहा जबकि मिडिल आर्डर (Middle Order) के बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। रोहित शर्मा, केएल राहुल और विराट कोहली ज्यादा कुछ नहीं कर पाए। टीम इंडिया की तरफ से श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) और रिषभ पंत (Rishabh Pant) ने शानदार अर्धशतक जमाया। अय्यर ने 70 जबकि पंत ने 71 रन की पारी खेल टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में अहम योगदान दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here