भारतीय सेना ने पाक से कहा- सफेद झंडा लेकर आओ और BAT कमांडो के शव ले जाओ

भारतीय सेना की ओर से पाकिस्तान की सेना से कहा गया है कि वह सफेद झंडा (White Flag) लेकर आए और इन शवों को ले वापस ले जाए.

0
316

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के केरन के सेक्टर में शनिवार को पाकिस्तानी की बॉर्डर एक्शन टीम यानी BAT की ओर से की जा रही घुसपैठ की साजिश को भारतीय सेना (Indian Army) ने नाकाम कर दिया गया है. इस कार्रवाई में पाक सेना या फिर पांच से सात आतंकी मारे गये हैं.

भारतीय सेना (Indian Army)की ओर से पाकिस्तान की सेना (Pakistan Army) से कहा गया है कि वह सफेद झंडा (White Flag) लेकर आए और इन शवों को ले वापस ले जाए. लेकिन पाकिस्तान की ओर से कोई जवाब नहीं आया है. गौरतलब है कि पिछले 36 घंटे में घाटी में जैश के 4 आतंकवादी भी मारे गए हैं. आतंकियों के पास से स्नाइपर राइफ़ल, IED और पाक में बनी बारूदी सुरंग बरामद हुई है.

पूंछ ज़िले (Punch District) के मेंढर सेक्टर में पाकिस्तानी सेना ने सीज़फ़ायर को तोड़ा है..पाक की ओर से छोटे हथियारों से फ़ायरिंग की गई और मोर्टार से गोले भी दागे गए. सेना के मुताबिक पाकिस्तान सेना आतंकियों को घुसपैठ कराने में न केवल लगी रहती है बल्कि उन्हें हथियार भी मुहैया कराती है. ये बात भारतीय सेना हमेशा डीजीएमओ लेवल बातचीत में उठाती रही है. सेना ने ये भी साफ किया है कि वो ऐसी हरकतों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करता रहेगा सेना एलओसी के साथ साथ कश्मीर में आतंकियों की हर हरकत का जवाब देती रहेगी. वहीं सेना की ओर से जानकारी दी गई है कि पिछले 36 घंटों में पाकिस्तान की ओर से कोई हरकत नहीं की गई है और न अमरनाथ जी यात्रा को निशाना बनाया गया है.

जम्मू-कश्मीर में पुलिस की एडवायज़री और फ़ौज की नयी कंपनियों की तैनाती के बीच क़यासों का दौर जारी है..इन सबके बीच सियासी दलों के प्रतिनिधियों ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से भी मुलाक़ात की. लेकिन राज्यपाल ने नेताओं को जो भरोसा दिया है उससे वो संतुष्ट नहीं हैं.

सिविल एविएशन मंत्रालय ने अमरनाथ यात्रियों और सैलानियों के कश्मीर घाटी से लौटाने के मद्देनज़र एयरलाइन्स कंपनियों को श्रीनगर से उड़ान भरने वाले विमानों का किराया नियंत्रण में रखने की सलाह दी है. मंत्रालय ने ट्वीट किया है कि … ”नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने सभी एयरलाइनों को अमरनाथ यात्रा से लौट रहे तीर्थयात्रियों के लिए विमान किराये में तेजी से हो रही वृद्धि को नियंत्रण में रखने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here