मुंबई हमले का मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद गिरफ्तार

मुंबई आतंकवादी हमले के मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा (जेयूडी) सरगना हाफिज सईद को आतंकवाद रोधी विभाग(CTD) ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत से बुधवार को गिरफ्तार

0
138

आतंकी गुट जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज़ सईद (Hafiz Saeed) की गिरफ्तारी और उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिए जाने की पाकिस्तानी मीडिया से मिली ख़बर पर सूत्रों के मुताबिक भारत ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा है, “अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है… यह उनका कहना है… यह भी नहीं भूलना चाहिए कि (पाकिस्तान के प्रधानमंत्री) इमरान खान जल्द ही पश्चिम की यात्रा पर जाने वाले है… वह अपनी छवि अच्छी बनाना चाहते हैं… सो, भले ही यह गिरफ्तारी सचमुच हुई हो, हमें इसके झांसे में नहीं आना चाहिए…”

बता दें, मुंबई आतंकवादी हमले के मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा (जेयूडी) सरगना हाफिज सईद को आतंकवाद रोधी विभाग(CTD) ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत से बुधवार को गिरफ्तार किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि सईद आतंकवाद रोधी अदालत में पेश होने के लिए लाहौर से गुजरांवाला आया था तभी उसे गिरफ्तार कर लिया गया. उसके खिलाफ कई मामले लंबित हैं, उन्होंने बताया कि उसे एक अज्ञात स्थान पर ले जाया गया. पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

सईद के नेतृत्व वाला जेयूडी लश्कर-ए-तैयबा का ही संगठन है जो 2008 मुंबई हमलों के लिए जिम्मेदार है। इस हमले में 166 लोग मारे गए थे. अमेरिका के वित्त विभाग ने सईद को आतंकवादी सूची में डाल रखा है और अमेरिका ने 2012 से ही सईद को सजा दिलाने के लिए सूचना देने के वास्ते एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है. अंतरराष्ट्रीय समुदाय के दबाव में पाकिस्तानी अधिकारियों ने जेयूडी और लश्कर-ए-तैयबा के ठिकानों और आतंकवाद के वित्त पोषण के वास्ते निधि जुटाने के लिए ट्रस्टों के इस्तेमाल के मामलों की जांच शुरू की है.

हाफिज सईद और उसके तीन सहयोगियों को हालही पाकिस्तान में आतंक रोधी एक अदालत ने, अपने मदरसे के लिए जमीन के अवैध इस्तेमाल से जुड़े मामले में तीन अगस्त तक अग्रिम जमानत दी थी.

लाहौर में आतंक रोधी अदालत (ATC), ने सईद और उसके सहयोगियों- हाफिज मसूद, अमीर हमजा और मलिक जफर को 50-50 हजार रुपये के मुचलके पर तीन अगस्त तक अंतरिम जमानत दी थी. इससे पहले ‘डॉन’ अखबार ने खबर दी थी कि एटीसी ने जेयूडी नेताओं को 31 अगस्त तक अंतरिम जमानत प्रदान की है. आतंक रोधी विभाग (सीटीडी) ने लाहौर में अवैध तरीके से एक भूखंड हड़पने और उस पर मदरसा बनाने के लिए सईद और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here