शेखर कपूर के Tweet पर भड़के जावेद अख्तर, Twitter पर लगाई फटकार।

जावेद अख्तर ने बैंडिट क्वीन और मिस्टर इंडिया फिल्म के निर्देशक शेखर कपूर की रविवार को Twitter पर जमकर फटकार लगाई.

0
1670

जावेद अख्तर ने बैंडिट क्वीन (Bandit Queen) और मिस्टर इंडिया (Mr India) फिल्म के निर्देशक शेखर कपूर (Shekhar Kapur) की रविवार को Twitter पर जमकर फटकार लगाई. शेखर कपूर ने अपने आधिकारिक Twitter अकाउंट पर लिखा कि उन्हें बुद्धिजीवियों से डर था, जो सांप की तरह होते हैं और उन्हें भारत में विभाजन के दशकों बाद अभी भी शरणार्थी जैसा महसूस होता है. इस बयान के बाद गीतकार जावेद अख्तर ने Twitter पर जमकर खबर ली. उन्होंने उनके Tweet पर जवाब देते हुए लताड़ लगाई. अख्तर ने Twitter पर बरसते हुए लगातार तीन-चार Tweet कर डाले. उनके अलावा Twitter यूजर्स ने भी फिल्म डायरेक्टर शेखर कपूर पर भड़ास निकाली.

शेखर कपूर (Shekhar Kapur) ने अपने Twitter अकाउंट पर लिखा, ”अपने जीवन की शुरुआत भारत के विभाजन के समय में एक शरणार्थी के तौर पर की थी. माता-पिता ने मेरा जीवन बनाने के लिए सब कुछ अर्पण कर दिया. मैं ‘बुद्धिजीवियों’ से हमेशा डरता रहा. उन्होंने मुझे हमेशा अधूरा और छोटा महसूस करवाया और जब मेरी फिल्म चल पड़ी तो वहीं लोग मेरी सराहना करने लगे. मैं आज भी बुद्धिजीवियों से डरता हूं. बुद्धिजीवियों से गले मिलना सांप के डसने जैसा है. मैं आज भी एक शरणार्थी हूं.”

इस Tweet के बाद गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने करारा जवाब देते हुए लिखा, ”ये कौन बुद्धिजीवी वर्ग हैं, जो आपको गले लगा रहे हैं और आप उनसे गले मिलकर सांप के डसने जैसा महसूस कर रहे हैं? श्याम बेनेगल, अदूर गोपाल कृष्ण, राम चंद्र गुहा? क्या सच में? शेखर साहब आप ठीक नहीं लग रहे. आपको मदद की जरूरत है. चलिए, किसी अच्छे मनोचिकित्सक से मिलने में मत शरमाइए.”

जावेद अख्तर ने ठीक दूसरे Tweet में लिखा, ”शरणार्थी का क्या मतलब है? क्या आप आज भी भारत में एक बाहरी के तौर पर रह रहे हैं? क्या आपको यह अपनी धरती नहीं लगती? अगर आप भारत में अभी भी शरणार्थी है तो आप शरणार्थी जैसा कहां महसूस नहीं करेंगे, पाकिस्तान में? अमीर गरीब का मेलोड्रामा बंद करिए, लेकिन आप अकेले व्यक्ति हैं.”

जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने इस tweet के जरिए भी शेखर कपूर पर जमकर लताड़ लगाई. उन्होंने लिखा- ”आपने अपने आपको इस तरह से पेश किया है कि आपको न तो अतीत के पूर्वाग्रहों से कोई मतलब है और न ही भविष्य में किसी तरह से डरे हुए हैं. और आप अपने आपको बंटवारे के समय से शरणार्थी बताते आ रहे हैं और आप अब भी खुद को शरणार्थी ही मानते हैं. आपके इस विरोधाभास को कोई भी सामान्य रूप से देख सकता है.”

हालांकि शेखर कपूर ने जावेद अख्तर के Tweet के बाद खुद भी एक Tweet किया, जिसमें वह खुद का बचाव करते हुए नजर आए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here