Jet Airways ने सोमवार तक के लिए सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द की

संकट से जूझ रही जेट एयरवेज कंपनी ने शुक्रवार को अगले सोमवार तक के लिए अपनी सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को निलंबित कर दिया।

0
378

जेट एयरवेज अपने 25 साल पुराने इतिहास में सबसे खराब दौर का सामना कर रही है। संकट से जूझ रही जेट एयरवेज कंपनी ने शुक्रवार को अगले सोमवार तक के लिए अपनी सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को निलंबित कर दिया।

संकटग्रस्त जेट एयवेज ने नकदी की कमी के चलते अपने अंतरराष्ट्रीय उड़ान परिचालन को सोमवार तक के लिए निलंबित किया है। 

वहीं, स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले बैंकों के समूह द्वारा हिस्सेदारी की बिक्री के लिए आमंत्रित बोली की समयसीमा शुक्रवार को समाप्त हो गयी। बैंकों का समूह एयरलाइन के दैनिक परिचालन को देख रहा है। बोली सौंपने के लिये समयसीमा को दो दिन बढ़ाकर शुक्रवार किया गया था। 

मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक एयरलाइन के संस्थापक नरेश गोयल, यूएई की एत्तिहाद एयरवेज, एयर कनाडा और अन्य निवेशकों ने एयरलाइन के लिये बोली सौंपी हैं।

एयरलाइन ने अपने अंतरराष्ट्रीय परिचालन को अस्थायी तौर पर निलंबित रखने की बृहस्पतिवार को घोषणा की थी। इसके अलावा पट्टे का किराया नहीं दे पाने के कारण 10 और विमानों के परिचालन सेवाओं से बाहर होने के बाद जेट एयरवेज ने पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत में परिचालन सेवाओं को निलंबित करने की घोषणा की थी। 

एयरलाइन सूत्रों ने ”पीटीआई-भाषा” से कहा, ”नकदी की बहुत अधिक कमी के कारण जेट ने अंतरराष्ट्रीय परिचालन को निलंबित रखने के फैसले को सोमवार तक बढ़ाने का फैसला किया है।”

जेट अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में विमान सेवायें देने वाली सबसे बड़ी घरेलू एयरलाइन रही है। उसके अंतरराष्ट्रीय परिचालन का एम्सटर्डम मुख्य केन्द्र रहा है। मंगलवार को पट्ट किराया का भुगतान नहीं होने के कारण एक एजेंट ने एम्सटर्डम में जेट का विमान अपने कब्जे में ले लिया। इसकी वजह से उस दिन जेट की एम्सटर्डम- मुबई उड़ान निरस्त हो गई। और भी कई उड़ानें रद्द की गई। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here