कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया और मिलिंद देवड़ा ने अपने पदों से दिया इस्तीफा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के इस्तीफे के बाद अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है।

0
365

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के इस्तीफे के बाद अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने कांग्रेस महासचिव पद से इस्तीफा देते हुए इस बात की जानकारी अपने आधिकारिक Twitter अकाउंट से साझा की।

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने अपने Twitter अकाउंट से Tweet किया, ‘जनादेश को स्वीकार करते हुए और जिम्मेदारी लेते हुए मैंने ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी (AICC) के महासचिव पद से अपना इस्तीफा राहुल गांधी को सौंप दिया है। मुझ पर यकीन कर यह जिम्मेदारी देने और पार्टी की सेवा करने का अवसर देने हेतु मैं धन्यवाद देता हूं।’

लोकसभा चुनाव 2019 के बाद से ही कांग्रेस में उठापटक का दौर शुरू हो गया है। बता दें कि कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को लोकसभा चुनाव के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश का प्रभारी भी नियुक्त किया था। हालांकि, तमाम दांव खेलने के बावजूद कांग्रेस को यूपी समेत पूरे देश से निराशा ही हाथ लगी। यूपी से कांग्रेस महज एक सीट पर ही जीत दर्ज कर पाई। हार के आंकड़ों को देखने के बाद राहुल गांधी ने कई दिग्गज नेताओं की कार्यशैली पर सवाल भी खड़े किए थे।

उधर, लोकसभा चुनाव में करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए कुछ घंटे पहले ही मुंबई पार्टी अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा (Milind Deora) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

मिलिंद देवड़ा (Milind Deora) ने कहा कि वह पार्टी को मजबूत करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर भूमिका निभाने की आशा करते हैं। देवड़ा ने इस साल के आखिर में होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव तक नगर पार्टी इकाई के कामकाज की देखरेख के लिए कांग्रेस के तीन वरिष्ठ नेताओं की सदस्यता वाली एक अस्थायी सामूहिक नेतृत्व (समिति) गठित करने की सिफारिश की है। ऐसे में देवड़ा का इस्तीफा कांग्रेस के लिए खासा बड़ा झटका माना जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here