ज्योतिरादित्य सिंधिया BJP में बन गए बैकबेंचर, कांग्रेस में होते तो बन सकते थे CM- राहुल गांधी

राहुल गांधी ने पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं से आरएसएस की विचारधारा से लड़ने और किसी से नहीं डरने की बात की।

0
871

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने सोमवार को बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर तंज कसा। राहुल गांधी ने कहा कि अगर सिंधिया कांग्रेस में रहते तो एक दिन मुख्यमंत्री बन सकते थे, लेकिन बीजेपी में जाकर बैकबेंचर बनकर रह गए। सिंधिया ने पिछले साल मार्च महीने कांग्रेस में कई सालों तक रहने के बाद बीजेपी का दामन थाम लिया था।

ANI के सूत्रों के अनुसार, यूथ कांग्रेस में पार्टी संगठन पर बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ”वह (सिंधिया) अगर कांग्रेस के साथ रहते तो मुख्यमंत्री बन सकते थे, लेकिन बीजेपी में बैकबेंचर बनकर रह गए। सिंधिया के पास कांग्रेस के साथ काम करते हुए पार्टी को मजबूत बनाने का विकल्प था। मैंने उन्हें कहा था कि एक दिन तुम मुख्यमंत्री बनोगे, लेकिन उन्होंने दूसरा रूट चुना।”

सूत्रों ने आगे बताया कि राहुल गांधी ने यह भी कहा कि लिखकर ले लीजिए, वह वहां पर कभी भी मुख्यमंत्री नहीं बन सकते। उसके लिए उन्हें यहीं वापस आना होगा। कार्यक्रम में राहुल गांधी ने पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं से आरएसएस की विचारधारा से लड़ने और किसी से नहीं डरने की बात की।
IYC के साथियों से मिलकर राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की।

पांचों राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी ने यूथ कांग्रेस की नेशनल एग्जीक्यूटिव मीटिंग को संबोधित किया। यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने ट्विटर पर कहा कि इंडियन यूथ कांग्रेस पार्टी हेडक्वार्टर में नेशनल एग्जीक्यूटिव की बैठक का आयोजन करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

गौरतलब है कि पिछले साल कांग्रेस छोड़ने के एक दिन के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हो गए थे। बीजेपी में शामिल होने के बाद सिंधिया ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस पहले जैसी नहीं रही। मध्य प्रदेश की तत्कालीन कमलनाथ सरकार पर बरसते हुए सिंधिया ने कहा था कि मध्य प्रदेश सरकार में ट्रांसफर उद्योग चल रहा है। बाद में बीजेपी की ओर से सिंधिया को राज्यसभा भी भेजा गया। वहीं, मध्य प्रदेश में सिंधिया के समर्थित विधायकों के इस्तीफा देने की वजह से कमलनाथ सरकार गिर गई, जिसके बाद शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर से राज्य के मुख्यमंत्री बने थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here