कुरक्षेत्र में पीएम मोदी हुए भावुक, बोले- पहली बार बयां किया दर्द।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कुरुक्षेत्र रैली में कहा कि कांग्रेस के लाेग मुझे प्रेम के नाम पर गालियां देते हैं।

0
213

Kurukshetra, Haryana: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कुरुक्षेत्र रैली में कहा कि कांग्रेस के लाेग मुझे प्रेम के नाम पर गालियां देते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने भावुक अंदाज में कहा, इनके प्रेम वाली डिक्‍शनरी में मेरे लिए तरह-तरह की गालियां हैं। इन लोगों ने मेरे लिए क्‍या-क्‍या नहीं कहा, क्‍या-क्‍या नहीं गालियां दीं। मेरे प्रधानमंत्री बनने के बाद इन्‍होंने मेरी मां को गालियां दीं और यह भी पूछा कि मेरे पिता कौन हैं। इनके गालियों की परवाह न कर देश की सेवा कर रहा हूं।

प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने भावुक अंदाज में कहा, आप ही मेरा परिवार हैं। आपकी खुशहाली ही मेरा ध्येय है। कांग्रेस के वंशवाद को चुनौती देता हूं इसलिए ये मुझे प्रेम का नक़ाब पहनकर गालियां देते हैं। मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, मैंने कांग्रेस और उनके मिलावटी साथियों का भ्रष्‍टाचार रोका तो इन लोगों ने प्रेम के नाम पर गालियां दीं। कांग्रेस के नेताओं ने मुझे नाली का कीड़ा कहा, पागल कुत्ता कहा, लहू पुरुष कहा, बंदर कहा, मौत का सौदागर कहा। इन लोग की नीयत मोदी की बोटी-बोटी करने की है।

कुरुक्षेत्र सत्य की भूमि है। इस धरती से देशवासियों को बताना चाहता हूं कि ये लोग कैसी प्रेम वर्षा मोदी पर करते हैं। कांग्रेस के एक नेता ने मुझे गंदी नाली का कीड़ा कहा, दूसरे न तेली, तीसरे ने पागल कुत्ता कहा और एक ने भस्मासुर की उपाधि दी। एक नेता जो पूर्व विदेश मंत्री हैं ने मुझे बंदर कहा तो किसी ने वायरस कहा।

प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने कहा, इस तरह के शब्द बोलना सही नहीं है। मुझे गाली देते हुए इन लोगों ने कितनी बार मर्यादा तार-तार की हैं। यह चाय वाला जब प्रधानमंत्री बना तो उन्होंने मुझे जो कहा वह इस धरती से बताना चाहता हूं। मोस्ट स्टुपिड पीएम कहा गया, जवानों के खून का दलाल, गद्दाफी, मुसोलिनी और हिटलर भी कहते हैं।

पीएम मोदी ने कहा, मुझे मानसिक तौर पर बीमार और नीच आदमी बताया गया। यहां तक पूछा गया के मेरे पिता कौन थे। दादा कौन थे। निकम्मा, नशेड़ी, औरंगजेब से भी क्रूर, नमकहराम तक कहा गया। यह सब मेरे प्रधानमंत्री बनने से बाद कहा गया। कांग्रेस की प्रेम की ऐसी डिक्शनरी अपने बच्चों के हाथ न लग जाए यह ख्याल रखना।

पीएम मोदी ने कहा, हरियाणा भी पांच साल में बहुत बड़े परिवर्तन का गवाह रहा है। पानीपत से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ शुरू किया। हरियाणा सपोर्टिंग सुपर पावर बने ऐसा सपना है। हमारी वीर बेटियों की महत्ता महत्वपूर्ण रहने वाली हैं। अंबाला, करनाल और कुरुक्षेत्र से एक-एक वोट सीधा मोदी के खाते में आएगा ऐसा विश्वास है।

पीएम मोदी ने कहा कि इन लोगों को पाकिस्तान की हरकतें पसंद हैं, लेकिन देश को मजबूत करने वालों को गाली देते हैं। एयर स्ट्राइक याद कीजिये। इसके बाद जब भारत ने आतंकी को घर में घुस कर मारा। तब हमारे एक वीर सपूत को उन्होंने पकड़ लिया था। 48 घंटे में पाकिस्तान को उसे गर्दन नीची कर वाघा बॉर्डर तक छोड़ने आना पड़ा, लेकिन कांग्रेस और उसके राग दरबारियो ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए। यहां तक कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को नोबेल पुरस्कार मिलना चाहिए। यही इनकी सच्चाई है। इन्होंने भारत की सभ्यता और परंपरा को बदनाम करने का बीड़ा उठाया रखा है।

उन्‍होंने कहा कि समझौता एक्सप्रेस विस्फोट में निर्दोष लोगों को जेल में रखा और असली आतंकियों के बचने का रास्ता खोल दिया। भारत को बदनाम करने वाली कांग्रेस को देश कभी माफ नहीं करेगा। कांग्रेस सिर्फ एक ही परिवार की चिंता में डूबी रहती है। इसलिए भारत की तरक्की के लिए कभी गंभीरता नही दिखाई। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस को भारत से ज्‍यादा पाकिस्‍तान के हितों की ज्‍यादा चिंता है।

नरेंद्र मोदी ने रैली में लोगों का उत्साह देखकर कहा, आपकी यही ऊर्जा प्रेरणा देती है। उन्‍होंने गीता का एक श्लोक बोला और कहा कि यह धरती मुझे काम करने का संदेश देती है। कुछ न करने से कुछ करना बेहतर होता है। मैं 130 करोड़ सपनों के लिए अपने जीवन को समर्पित कर देश को आगे बढ़ाने का काम कर रहा हूं।

पीएम मोदी ने कहा, कांग्रेस चाहती है कि देशद्रा‍ेहियों को खुली छूट मिले। बिना रक्षा नीति के बिना किसी देश की सुरक्षा नहीं कर सकती। उन्‍होंने कहा कि भाजपा किसान और जवान के साथ हैं। हम 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करेंगे। उन्‍होंने सर छोटूराम पर एक नेता द्वारा सवाल उठाने का मामला भी उठाया और इसकी निंदा की।

उन्‍होंने कहा कि भारत की कई नदियाें का पानी पाकिस्तान जाकर वहां की ज़मीन को सोना बनाता है। हमारे हक का पानी पाकिस्तान जा रहा है, लेकिन हमारे हक के पानी को रोकने का काम भी कांग्रेस ने नहीं किया। अब आपका एक चौकीदार भारत के हक का एक-एक बूंद पानी यहां के किसान तक पहुंचाने का संकल्प लेकर बैठा है। अब यह पानी पाकिस्तान नहीं जाएगा। कई परियोजना पर काम शुरू हो चुका है। अगले पांच साल में ऐसी परियोजना खड़ी करेंगे कि देश के हर हिस्से को पानी मिलेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि हमें अपने किसान और जवानों का ध्‍यान है। सभी मंडियों को ऑनलाइन से जोड़ने का प्रयास चल रहा है। किसानों के साथ व्यापारी साथियों का भी ध्यान है। देश में राष्ट्रीय व्यापारी आयोग बनाना तय किया है। हम 50 लाख रुपये तक के ऋण बिना गारंटी देने की व्यवस्था करने वाले हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here