पीएम मोदी ने पांच साल सिर्फ झूठ बोला है – प्रियंका गाँधी

पीएम मोदी ने पांच साल पूरी दुनिया का दौरा किया और सभी को गले लगाया, लेकिन अपने स्वयं के लोगों को गले नहीं लगाया।

0
260

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा Lok Sabha Election 2019 के तहत उत्तर प्रदेश में जगह-जगह जाकर रोड शो कर कांग्रेस की नींव मजबूत कर रही हैं। इसी कड़ी में प्रियंका गांधी अपनी मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली और भाई राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र में चुनावी तैयारियों का जायजा लेने के बाद आज (शुक्रवार को) रामनगरी अयोध्या पहुंची। यहां प्रियंका गांधी ने केंद्रीय सरकार पर जमकर निशाने साधे। उन्होंने कहा कि इस सरकार ने लोकतंत्र को नष्ट करने का काम किया है। बड़ी-बड़ी ही बाते की हैं बस, काम एक भी नहीं किया। इससे दुर्बल सरकार मैंने आज तक नहीं देखी।

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि मैंने लोगों से पूछा कि क्या पीएम वाराणसी के गांवों का दौरा करते हैं, तो मुझे जवाब मिला कि वह नहीं जाते हैं। मैं आश्चर्यचकित थी क्योंकि उनका प्रचार ऐसा है कि मुझे लगा कि वह कुछ कर रहे होंगे। उन्होंने पूरी दुनिया का दौरा किया और सभी को गले लगाया, लेकिन अपने स्वयं के लोगों को गले नहीं लगाया।

किसानों का मुदा उठाते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि इस सरकार में हिम्मत नहीं है कि आपकी आवाज सुने। सत्य को कोई दबा नहीं सकता न कोई खत्म कर सकता है और न ही इसे छिपा सकता है। मैंने सत्य किसानों की आंखो में देखा है।

प्रियंका ने कहा, आपने कांग्रेस की सरकार देखी है। कांग्रेस की सरकार ने आपको मनरेगा दिया। जब मनरेगा कांग्रेस की सरकार ने बनाया था, तो मकसद था कि हर परिवार को 100 दिन का रोजगार मिलना तय हो। मोदीजी आए तो उन्होंने कहा कि मनरेगा जैसी योजना के लिए पैसे नहीं हैं। आज मनरेगा में जो रोजगार करता है, उसे छह-छह महीने पैसे नहीं मिलते हैं। ये गलती से नहीं हुआ है, ये जानबूझकर किया जा रहा है। ये ऐसी सरकार है जो आपका रोजगार छीनती है। कांग्रेस ने न्याय योजना का एलान किया है। जब ये घोषणा हुई तो भाजपा की सरकार ने कहा कि ये सब चुनावी जुमले हैं। देश में इसके लिए पैसा नहीं है।

वहीं, प्रियंका गांधी ने लोगों से सवाल करते हुए कहा कि ये राजनीति आपको दुर्बल बनाती है। ऐसी राजनीति जो आपको न चाहे उसका क्या करना चाहिए? लोकतंत्र और संविधान किस लिए बनाए गए हैं। इस बार वोट डालने जाते समय सोचकर दीजिएगा।

कुमारगंज में कांग्रेसियों के साथ पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री ने माला पहनाकर प्रियंका गांधी कास्वागत किया। इस दौरान उनके साथ पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी, प्रदेश उपाध्यक्ष ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह,महासचिव सत्यदेव सिंह आदि शामिल रहे। प्रियंका के क‍ाफिला ने सिधौना का रुख किया। जहां नुक्कड़ सभा न कर केवल कार्यकर्त्ताओं का अभिवादन स्वीकार कर अटका रवाना हो गईं। बता दें, अमेठी के रास्ते प्रियंका गांधी के कुमारगंज पहुंची। कुमारगंज से हनुमानगढ़ी तक 9 जगहों पर लोगों से बातचीत करेंगी। वहीं, तीन जगहों पर नुक्कड़ सभा होगी।

प्रियंका गांधी का काफिला रायबरेली के अमावा ब्लाक स्थित चौराहे होते हुए अयोध्या की ओर रवाना हुआ। जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फूल-मालाओं के साथ उनका स्वागत हुआ। काफिला जैसे-जैसे आगे बढ़ा कार्यकताओं का जोश और बढ़ता गया। अमेठी के मोहनगंज चौराहे पहुंचते ही प्रियंका गांधी का भव्य स्वागत हुआ। इसी बीच वह गाड़ी से नीचे उतर गईं। कार्यकर्ताओं ने अभिवादन किया। जगदीशपुर के गुलाब गंज चौराहे पहुंचते ही एक महिला से प्रियंका गांधी ने बात की।

वहीं, प्रियंका के अयोध्या आकर भी रामलला से दूर रहने पर विरोधी दलों के सवालों को कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. निर्मल खत्री ने करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि यह सवाल मोदी जी से क्यों नहीं किया जाता है कि वे प्रधानमंत्री बनने के बाद अयोध्या रामलला का दर्शन करने क्यों नहीं आए। पहले वे आएं, तब करें प्रियंका जी के बारे में ऐसे सवाल।

चुनावी महासमर में रोड-शो के जरिए सियासी सफर तय कर रही कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। एसपीजी और पुलिस की सुरक्षा में प्रियंका 65 किलोमीटर का सियासी सफर तय करेंगी। रोड-शो के दौरान प्रियंका के इर्द-गिर्द सुरक्षा कर्मियों की तैनाती सेफ्टी बॉक्स की तरह होगी। पहले एसपीजी और उसके बाद पुलिस का सुरक्षा घेरा होगा। ये पुलिसकर्मी विशेष प्रशिक्षण प्राप्त होंगे। यहां से रोड-शो करते हुए वे अयोध्या हनुमानगढ़ी तक जाएंगी। पूरे रोड-शो मार्ग को छह जोन में बांटकर सुरक्षा व निगरानी का खाका तैयार किया गया है। प्रत्येक जोन का प्रभारी पुलिस उपाधीक्षक श्रेणी का होगा। इसके अतिरिक्त मजिस्ट्रेट भी लगाए गए हैं। सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मियों की संख्या व उनकी तैनाती स्थिति को गोपनीय रखा गया है। घनी आबादी वाले क्षेत्रों में सुरक्षा कर्मियों की संख्या में इजाफा रहेगा। जैसे-जैसे प्रियंका का कार्यक्रम एक प्वाइंट पर समाप्त होगा, उस स्थान की फोर्स आगे के प्वाइंट पर तैनात फोर्स की मदद में पहुंचती जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here