लंदन से राहुल ने साधा मोदी पर निशाना, सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन कर डोकलाम पर घेरा

0
321

लंदन में इंटरनैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ स्ट्रैटिजिक स्टडीज (IISS) के एक कार्यक्रम में राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर एकबार फिर निशाना साधा। राहुल गांधी ने एक तरफ सीमा पार सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन किया है तो दूसरी तरफ डोकलाम को लेकर सरकार पर हमलावर भी हुए। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पीएम मोदी डोकलाम को एक इवेंट की तरह देखते हैं। उन्होंने कहा कि डोकलाम में अभी भी सैनिक जमा हैं और अगर प्रक्रियाओं पर नजर रखी जाती तो डोकलाम विवाद टाला जा सकता था।

राहुल गांधी ने कहा कि पिछले चार सालों में केंद्र की सत्ता का केंद्रीकरण हुआ है जबकि विकेंद्रीकरण के कारण ही सफलता मिलती है। 1.3 अरब लोगों के बीच भेदभाव पैदा करने की कोशिश की जा रही है। राहुल ने कहा कि पीएमओ की विदेश मंत्रालय पर भी मोनोपॉली है। विदेश मंत्री के पास कोई काम नहीं है, इसलिए वह लोगों को वीजा देने में बिजी हैं।

राहुल ने कहा कि विदेश मंत्रालय के पास इससे ज्यादा महत्वपूर्ण काम नहीं है। कार्यक्रम में राहुल से जब डोकलाम को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा, ‘मेरे पास इसे लेकर पूरी जानकारी नहीं है, इसलिए मैं कुछ नहीं कह सकता हूं, लेकिन इतना जरूर कहना चाहता हूं कि डोकलाम कोई सीमा विवाद नहीं है। यह एक रणनीतिक मामला है। सरकार हर चीज को एक इवेंट की तरह देखती है। मैं डोकलाम को एक प्रक्रिया की तरह देखता हूं।’

राहुल गांधी ने कहा कि भारत तभी तरक्की करता है जब सत्ता का विकेंद्रीकरण होता है। पिछले चार साल से सिर्फ सत्ता का केंद्रीकरण किया जा रहा है। राहुल ने भारत में आतंकवाद के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया। राहुल ने कहा कि पाकिस्तान के साथ बातचीत करना मुश्किल है क्योंकि वहां किसी भी संस्था के पास पर्याप्त अधिकार नहीं हैं। इसलिए हमें तब तक इंतजार करना पड़ेगा जब तक वे कोई एकजुट संरचना न बना लें।

निरंजन कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here