आरक्षण की मांगः मराठा समूहों का आज महाराष्ट्र बंद, स्कूल-कॉलेज बंद, सुरक्षा कड़ी

0
256

मराहाष्ट्र में मराठा समूहों के संघ सकल मराठा समाज ने सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में मराठा लोगों को आरक्षण की मांग को लेकर 9 अगस्त को महाराष्ट्र में बंद का एलान किया है। बुधवार को कहा गया था कि नवी मुंबई को छोड़कर पूरे महाराष्ट्र में गुरुवार को बंद रखा जाएगा ताकि आरक्षण के लिए दबाव बनाया जा सके। अधिकारियों ने हिंसा की आशंका को देखते हुए कुछ इलाकों में स्कूलों और कॉलेजों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आश्वासन दिया था कि सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में मराठा लोगों को आरक्षण मुहैया कराने के लिए उनकी सरकार काम कर रही है जो कानूनन ठीक हो। उनके आश्वासन के बावजूद बंद का आयोजन किया जा रहा है। आरक्षण के बारे में कदम उठाने के लिए फडणवीस ने नवंबर तक का समय मांगा है।
वरिष्ठ मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने बुधवार को कहा कि उनकी मांग पर 15 नवंबर तक कुछ नहीं किया जा सकता। राज्य पुलिस ने कहा है कि वह अपने कर्मियों की अधिकतम तैनाती करेगी और साथ ही कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए केंद्रीय बलों की भी मांग करेगी।

राजनीतिक रूप से प्रभावशाली मराठा समुदाय राज्य की आबादी का लगभग 30 फीसदी हैं जो 16 फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं। सकल मराठा समाज के एक नेता ने कहा कि गुरुवार सुबह आठ बजे से शाम छह बजे तक शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन होगा। संगठन के नेता अमोल जाधवराव ने संवाददाताओं से कहा, यह राज्यव्यापी बंद होगा जिसमें नवी मुंबई शामिल नहीं होगा। बंद से सभी आवश्यक सेवाओं, स्कूलों और कॉलेजों को अलग रखा गया है।

उन्होंने कहा, कुछ संवेदनशील मुद्दों के कारण हमने नवी मुंबई में बंद नहीं करने का निर्णय किया है। जाधवराव ने कहा, मैं मराठा युवकों से अपील करता हूं कि आत्महत्या न करें। इससे समुदाय और इसके हितों को सहयोग नहीं मिलेगा। इससे पहले आरक्षण की मांग के समर्थन में समुदाय के कई लोगों ने आत्महत्या कर ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here