Corona Impact: शेयर बजार में भारी गिरावट, Sensex 27000 के नीचे

गुरुवार को Sensex 27,773.36 के स्तर पर तो वहीं निफ्टी 405.50 अंक टूट कर 8,063.30 के स्तर पर खुला।

0
1611

कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते महामारी का संकट गहराने और अमेरिकी शेयर बाजारों (Share Market) में बुधवार को भारी गिरावट का असर आज गुरुवार को भारतीय स्टॉक मार्केट में देखने को मिल रहा है। Sensex और Nifty खुलते ही धड़ाम हो गए। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1,096.15 अंक टूटकर 28000 के नीचे खुला। गुरुवार को Sensex 27,773.36 के स्तर पर तो वहीं निफ्टी 405.50 अंक टूट कर 8,063.30 के स्तर पर खुला। बता दें बुधवार को सेंसेक्स तीन साल में पहली बार 29 हजार के नीचे बंद हुआ था।

9:23 बजे: खुलते ही शेयर बाजार में तेज गिरावट देखी जा रही है। Sensex 1901.52 अंक टूटकर 26,967.99 के स्तर पर आ गया तो वहीं निफ्टीNifty 6.59% यानी 557.40 अंक लुढ़क कर 7,911.40 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले बढ़ने की वजह से निवेशकों में चिंता बढ़ी। इसके चलते बाजार में बिकवाली बढ़ गई।

कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से दुनिया भर में आर्थिक मंदी की आशंका भी बढ़ गई है। अमेरिका समेत कई देशों ने राहत पैकेज का ऐलान किया। इससे भी बाजार गिरा।

समायोजित सकल आय (AGR) के मामले में दूरसंचार कंपनियों को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली। कोर्ट की सख्ती की वजह से भी बाजार में गिरावट बढ़ गई।

विदेशी निवेशक (FII) भारतीय बाजार से लगातार पैसा निकाल रहे हैं। FII इस महीने 38,188 करोड़ रुपए के शेयर बेच चुके हैं।

अमेरिकी शेयर बाजार में बुधवार को जबर्दस्त गिरावट का रुख देखने को मिला। कोरोना के कहर से डाऊ जोंस 20000 के नीचे आ आ गया है। वहीं नैस्डैक भी 4.70 फीसद गिरकर 6989 के स्तर पर आ गया है। S&P 500 में भी भारी गिरावट देखने को मिली। यह 5.18 फीसद लुढ़क कर 2398 के स्तर पर आ गया है। इसका असर आज यानी गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार में भी देखने को मिल रही है।

पिछले तीन दिनों में डूबे 9 लाख करोड़

शेयर बाजार में लगातार गिरावट से तीन दिनों में निवेशकों को 9 लाख करोड़ का नुकसान हुआ है। बीएसई का बाजार पूंजीकरण सोमवार को 1,21,63,952.59 करोड़ रुपया था जो बुधवार को घटकर 1,13,64,118.31 करोड़ रुपये पर रह गया। बाजार पूंजीकरण के आधार पर ही निवेशकों की पूंजी के नुकसान का आंकलन होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here