सरकारी बंगले खाली करने से बचने के चलते मायावती ने खेला नया दावं

0
114
BABA KANSHI RAM,

हाल ही में यूपी सरकार की और से सुप्रीम कोर्ट में मुख्यमंत्री आवास अवैध तरीके से बनाए जाने की बात पर याचिका दर्ज की गई थी जिसके सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों के आवास खाली करवाए जाने के आदेश दिए गए थे। लेकिन ऐसे मे सभी नेता अपना आवास बचाने में लगे हुए हैं। अभी तो सिर्फ पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी सुप्रीमो मायावती के नए ठिकाने की बात हो रही थी, वहीं अब उन्होंने अपने सरकारी आवास के बाहर कांशीराम यादगार विश्राम स्थल का बोर्ड लगवा दिया है। बोर्ड लगाने से इस मामले में नया रोमांच के साथ केस ने भी नया मोड़ ले लिया है।

बता दें इस बोर्ड के लगाने से साफ़ हो गया है कि मायावती की मंशा सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी बंगला छोड़ने की नहीं है। बता दें मायावती ने बाबा कांशीराम का बोर्ड लगाने का मकसद यह है कि जब वह यूपी की मुख्यमंत्री बनी थी तो उनके आवास के बाहर बाबा कांशीराम का विश्राम स्थल हुआ करता था जिसने मायावती ने कथित रूप से अपने बंगले से जोड़ लिया। इसके पीछे वजह यह थी कि उस वक्त कांशीराम विश्राम स्थल का मासिक किराया करीब 72 हजार रुपये था, वहीं मायावती के बंगले का मासिक किराया 4212 रुपये।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here