आईएएफ की स्क्वाड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल ने बताया कैसे गिराया था पाक का एफ-16

आईएफ स्क्वाड्रन लीडर (Minty Agarwal, IAF Squadron leader) ने बताया कि एफ16 की कमान विंग कमांडर अभिनंदन ने लिया था। यह बहुत नाजुक स्थिति थी।

0
325

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) को लेकर भारत की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के बालाकोट पर हवाई हमला (Balakot Air Strike) करने वाले जाबांज पायलटों को भारत सरकार ने वीरता पदक देने की घोषणा की थी। सम्मानित होने वालों में आईएएफ की स्क्वाड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल (Minty Agarwal, IAF Squadron leader) भी शामिल है। उन्होंने बालाकोट एयर स्ट्राइक में उड़ान नियंत्रक की भूमिका निभाई थी।

वीरता पदक से सम्मानित होने वाली आईएएफ की स्क्वाड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल (Minty Agarwal, IAF Squadron leader) ने बताया कि वह इस पदक को पाकर वह बहुत गौरवान्वित महसूस कर रही है।

मिंटी अग्रवाल (Minty Agarwal) ने बताया कि जब हमने बालाकोट मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया। उसके बाद से ही हमे इस बात का अंदेशा था कि पाकिस्तान की तरफ से जवाबी कार्रवाई की जाएगी। जिसके लिए हम पहले से ही तैयार थे, और उन्होंने केवल 24 घंटों में भी जवाबी कार्रवाई की।

मिंटी अग्रवाल (Minty Agarwal) ने बालाकोट मिशन को लेकर आगे बताया कि हमारे पास रक्षा के लिए कुछ विमान पहले से ही थे और फिर जब पाकिस्तान की तरफ से कार्रवाई की गई तो हमने इन विमानों को भी मुकाबले के लिए उतार दिया। पाकिस्तानी लड़ाकू विमान हमले के इरादे से आए थे। लेकिन हमारे पायलटों, नियंत्रकों और टीम की कुशलता के चलते हमने उनका मिशन विफल कर दिया।

आईएफ स्क्वाड्रन लीडर (Minty Agarwal, IAF Squadron leader) ने बताया कि एफ16 की कमान विंग कमांडर अभिनंदन ने लिया था। यह बहुत नाजुक स्थिति थी। दुश्मन के कई लड़ाकू विमान थे लेकिन हमारे लड़ाकू विमानों ने डटकर उनका मुकाबला किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here