एंडरसन को गेंदबाजी करते देख काफी कुछ सीखा: शमी

0
192

भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी हैरान हैं कि भारतीय गेंदबाजों जितनी तेजी नहीं होने के बावजूद जेम्स एंडरसन कैसे अपने कौशल से बल्लेबाजों को छकाने में सक्षम हैं। चौथे टेस्ट से पूर्व शमी ने एंडरसन को शुभकामनाएं दीं जो टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाज के रूप में ग्लेन मैकग्रा (563 विकेट) का रेकॉर्ड तोड़ने से सिर्फ 7 विकेट दूर हैं। एंडरसन के नाम पर 557 विकेट दर्ज हैं।

शमी ने मंगलवार को यहां प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘जहां तक सीखने की प्रक्रिया का सवाल है, जब आप एक सीनियर खिलाड़ी (एंडरसन) को अपने सामने ऐसा प्रदर्शन करते देखते हैं तो आप उसे देखकर अधिक से अधिक सीखने की कोशिश करते हैं। मैं हमेशा देखता कि हमारे जितनी गति नहीं होने के बावजूद वह विकेट चटका रहा है- वह किस लेंथ के साथ गेंदबाजी कर रहा है। आपको ये चीजें सीखने को मिलती हैं। वह अलग हालात में अलग तरह का गेंदबाज होता है।’

उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ी चाहे कहीं से भी आए, सबसे पहले आपको यह देखना चाहिए कि वह घरेलू हालात का फायदा कैसे उठाता है। हम एंडरसन से काफी कुछ सीखने में सफल रहे। हमने पिछले दौरे पर भी उन्हें यहां देखा और उन्होंने काफी अच्छी गेंदबाजी की। अब तक मैंने एंडरसन से सीखा है कि आप जितना अधिक सटीक होंगे आपके लिए यह उतना बेहतर होता।’ भारत के तेज गेंदबाजों ने अब तक टीम के 46 में से 38 विकेट चटकाए हैं और बंगाल के इस तेज गेंदबाज ने कहा कि अनुकूल हालात में नतीजा देना उनकी जिम्मेदारी है।

शमी ने कहा, ‘इन हालात में नतीजे देने की जिम्मेदारी तेज गेंदबाजों पर है। हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया और कर रहे हैं। पिछली सीरीज (साउथ अफ्रीका में) में भी आपने देखा कि हमने अपना काम अच्छी तरह किया (तीन टेस्ट में 60 विकेट चटकाए)।’ टेस्ट मैचों में लगातार टीम बदलने के लिए कैप्टन विराट कोहली की आलोचना हो रही है लेकिन शमी ने कहा, ‘हमारी बेंच स्ट्रेंथ इस तरह की है कि अगर हम चाहें तो टीम में बदलाव कर सकते हैं। हमारे गेंदबाज इस प्रारूप में लंबे स्पैल की गेंदबाजी कर सकते हैं लेकिन यह बदलाव करने की नीति अच्छी है (पेसरों के लिए) क्योंकि इससे हमें उबरने का समय मिलता है।’

मुख्य कोच रवि शास्त्री ने मौजूदा आक्रमण को अब तक का सर्वश्रेष्ठ करार दिया है और शमी टीम की तारीफ से खुश हैं। उन्होंने कहा, ‘हम लंबे समय के बाद भारत की इस तरह की गेंदबाजी इकाई देख रहे हैं। जब इस बारे में बात होती है तो हमें भी अच्छा लगता है और हम अपने काम का लुत्फ उठाते हैं। यह भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छा है कि हमारे पास लंबे समय के बाद इस तरह का आक्रमण है। इसलिए जब हम इस तरह की प्रशंसा सुनते हैं तो मनोबल बढ़ता है।’ इस बीच रविचंद्रन अश्विन ने मंगलवार को नेट्स पर गेंदबाजी की और फिर फिट नजर आए। टीम प्रबंधन ने हालांकि इसकी औपचारिक पुष्टि नहीं की।

शमी से जब सिर्फ तेज गेंदबाजों को उतारने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘टेस्ट मैच में 5 पेसर के साथ उतरने का फैसला मुश्किल होता है। मेरे हिसाब से आपको स्पिनर की जरूरत होती है क्योंकि पांचवें दिन निश्चित तौर पर गेंद टर्न करती है। मैं निश्चित तौर पर कह सकता हूं कि इस विकेट पर अच्छा नतीजा आएगा।’ शमी ने कहा कि वह उन निजी मुद्दों से उबर गए हैं जिनके कारण पिछले कुछ महीनों में परेशान रहे। उन्होंने कहा, ‘पारिवारिक मामले के कारण पिछले आठ महीने मेरे लिए कड़े रहे। यह मायने नहीं रखता कि क्या हुआ और क्या नहीं, यह समय मेरे लिए काफी तनावभरा था। मैं कुछ समय तक इसके कारण परेशान रहा।’

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here