अच्छी खबर-अगले 48 घंटों में केरल पहुंचेगा मानसून।

मौसम विज्ञानी समर चौधरी ने बताया कि अगले 48 घंटों के भीतर केरल में मॉनसून (Monsoon) पहुंच सकता है। उन्होंने बताया कि इस साल मानसून कमजोर रहेगा।

0
1390

Weather Update: पूरे देश में गर्मी से लोगों को जीना बेहाल हो गया है। अब भीषण गर्मी के बीच मौसम का पूर्वानुमान देने वाली एजेंसी ने एक राहत की खबर दी है।

स्काईमेट (SKYMET) में मौसम विज्ञानी समर चौधरी ने बताया कि अगले 48 घंटों के भीतर केरल में मॉनसून (Monsoon) पहुंच सकता है। उन्होंने बताया कि इस साल मानसून कमजोर रहेगा। वहीं, दिल्ली और इसके आस-पास के क्षेत्रों के लिए मानसून की सामान्य तिथियां जून के अंतिम सप्ताह में हैं, लेकिन इसमें 10-15 दिनों की देरी भी हो सकती है।

चौधरी ने बताया कि यह पिछले 65 वर्षों में दूसरा सबसे सूखा साल है। उन्होंने कहा कि प्री-मानसून के लिए सामान्य वर्षा 131.5 मिमी है, जबकि जो दर्ज की गई है वो 99 मिमी है। बता दें कि देश के कई हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है और कुछ हिस्सों हिस्सों में पारा 50 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है। ऐसे में मानसून की दस्तक लोगों के लिए किसी बड़ी राहत से कम नहीं है।

बता दें कि देश के अलग-अलग हिस्सों में भीषण गर्मी का सितम जारी है। राजस्थान के पश्चिमी इलाकों और पूर्वी इलाकों के मैदानी भागों में लू चलने से जनजीवन प्रभावित हो रखा है। मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि चूरू में अधिकतम तापमान 48.3 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया। पिछले दिनों यहां तापमान 50.8 डिग्री सैल्सियस तक दर्ज किया गया था। गौरतलब है कि कई हिस्सें ऐसे भी है, जहां आदमी बूंद-बूंद को तरस रहा है। पूर्वी यूपी, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र और बिहार के कुछ हिस्सों में पानी की भारी कमी है।

उधर पंजाब और हरियाणा की साइड कुछ हिस्सों में मंगलवार को गर्मी और लू से राहत मिली, यहां तेज हवाओं के साथ हल्की-हल्की बूंदाबांदी ने मौसम कुछ समय के लिए सुहाना कर दिया है। बता दें कि इनमें से कई जगहों पर अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा था। वहीं चंडीगढ़ और इसके आसपास के इलाकों में भी बारिश हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here