जीवन जीने की सकारात्‍मक राह दिखाती है ‘द कोड’

यह किताब बताती है कि अहंकार, ईर्ष्‍या, अति महत्‍वाकांक्षा और क्रोध जैसी नकारात्‍मक विचारधाराएं कैसे लोगों पर हावी हो रही हैं।

0
3082

चैंप रीडर्स एसोसिएशन और लीडिंग ट्रेल्‍स प्राइवेट लिमिटेड ने जायको पब्‍लिशिंग के साथ मिलकर मुक्‍ता महाजनी की किताब ‘द कोड’ (The Code ) का अनावरण किया। पुस्‍तक का अनावरण कनॉट प्‍लेस स्‍थित ऑक्‍सफोर्ड बुक स्‍टोर (Oxford Book Store) में किया गया। इस मौके पर प्रसिद्ध लेखिका, फिल्‍म व थिएटर हस्‍ती श्रीमती रमा पांडे (Rama Pandey) , मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सेवानिवृत्‍त आर्थिक सलाहकार डॉ. एन के साहू (Dr NK Sahu) और सुप्रीम कोर्ट के वकील रूद्र विक्रम सिंह (Rudra Vikram Singh) उपस्‍थित रहे।

पुस्‍तक के अनावरण के दौरान लेखिका मुक्‍ता महाजनी (Mukta Mahajani) ने उन अनुभवों को साझा किया, जिनका सामना उन्‍होंने किताब लिखने के दौरान किया था। उन्‍होंने कहा, ‘यह किताब बताती है कि अहंकार, ईर्ष्‍या, अति महत्‍वाकांक्षा और क्रोध जैसी नकारात्‍मक विचारधाराएं कैसे लोगों पर हावी हो रही हैं। इन विचारों के कारण लोगों के रिश्‍ते खत्‍म हो जाते हैं। किताब में कई लघु कथाएं हैं और प्रसिद्ध हस्‍तियों के विचार भी समाहित किए गए हैं।’ कार्यकम के दौरान दिल्‍ली से कई अन्‍य बड़े लेखक भी उपस्‍थित रहे। अतिथियों ने किताब में उठाए गए मुद्दों पर चर्चा की और बताया कि किस तरह से आत्‍म संतोष जीवन को खुशहाल बनाता है। उन्‍होंने समाज में ऐसी पुस्‍तकों की आवश्‍यकता पर भी जोर दिया। इस तरह की किताबें वर्तमान भागमभाग और तनाव वाली जीवनचर्या में लोगों को अवांछित चिंताओं से बचने की सीख देती हैं। कार्यक्रम के दौरान प्रश्‍नोत्‍तर का दौर भी चला, जिसमें लेखिका ने लोगों की जिज्ञासाओं को दूर किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here