सरकारी बैंकों की देश व्यापी हड़ताल से बैंकों का कामकाज प्रभावित

सार्वजनिक क्षेत्र के 2 और बैंकों के निजीकरण के प्रस्ताव के विरोध में सरकारी बैंकों की देश व्यापी हड़ताल के पहले दिन सोमवार को बैंकिंग कामकाज बुरी तरह से प्रभावित हुआ।

0
1869

सार्वजनिक क्षेत्र के 2 और बैंकों के निजीकरण के प्रस्ताव के विरोध में सरकारी बैंकों की देश व्यापी हड़ताल के पहले दिन सोमवार को बैंकिंग कामकाज बुरी तरह से प्रभावित हुआ। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में नकदी निकासी, जमा, चेक समाशोधन और कारोबारी लेनदेन अवरुद्ध हुआ। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन (एआईबीओसी) के महासचिव सौम्य दत्ता ने कहा कि सरकार की नीतियों का अर्थव्यवस्था पर प्रतिकूल असर पड़ेगा। उन्होंने दावा किया कि कुछ शीर्ष स्तर के कर्मचारियों को छोड़कर बैंकों के सभी कर्मचारी इस 2 दिन की हड़ताल में शामिल हैं।

कर्मचारियों ने देशभर में रैलियां निकालीं व धरने दिए। दत्ता ने कहा कि यदि सरकार ने हमारी बातों को नहीं सुना, तो हम और बड़ा कदम भी उठा सकते हैं। उधर यह भी दावा किया गया है कि प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्केल के 100 प्रतिशत कर्मचारी हड़ताल में शामिल हुए। इस बीच, निजी क्षेत्र के बैंकों… आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक और एक्सिस बैंकों की शाखाओं में सामान्य कामकाज हुआ। सरकार पहले ही आईडीबीआई बैंक का निजीकरण कर चुकी है। 9 यूनियनों के संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने 15 और 16 मार्च की इस हड़ताल का आह्वान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here