नेपाल में फंसे 104 भारतीय श्रद्धालु बचाए गए, हॉटलाइन नंबर जारी

0
324

नेपाल के रास्ते कैलाश मानसरोवर जा रहे भारर्तीय श्रद्धालुओं को बचाने की कोशिशें तेज हो गई है। करीब 1500 तीर्थयात्री अलग- अलग इलाकों में फंसे हुए हैं। नेपाल में फंसे 104 श्रद्धालुओं को बचा लिया गया है जबकि आंध्र प्रदेश के एक श्रद्धालु की मौत हो गई है जिसका पोस्टमार्टम के बाद उसके पार्थिव शरीर को उसके घर भेजा जाएगा। वहीं सिमीकोट में 525 तीर्थयात्रियों के बचाने की कवायद तेज हो गई है जबकि हिल्सा में फंसे सैंकड़ों श्रद्धालुओं को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नेपाल में फंसे तीर्थयात्रियों को लाने को लेकर चल रहे ऑपरेशन पर अपनी नज़र बनाए हुए हैं वो विदेश मंत्रालय, और अन्य शिर्ष अधिकारियों के संपर्क में हैं और अधिकारियों से हरसंभव भारतियों को सुरक्षित निकालने और मदद पहुंचाने को कहा है। जबकि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने नेपाल सरकार से सेना के हेलिकॉप्टर का मदद लेने की गुजारिश की है ताकि श्रद्धालुओं को सुरक्षित निकाला जा सके।

हिल्सा में भारी बारिश और खराब मौसम की चपेट में आए 104 कैलाश मानसरोवर तिर्थयात्रियों को सिमीकोट से हिल्सा लाया गया है। श्रद्धालुओं को बचाने के लिए नेपालगंज से सिमीकोट के लिए 7 प्लाइट संचालित की जा रही है। भारी बारिश के बाद कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जा रहे करीब 1500 तीर्थयात्री अलग- अलग जगहों पर फंस गए थे जिसे लेकर विदेश मंत्रालय ने हॉटलाइन नंबर जारी किया था। ये हॉटलाइन नंबर नेपाल में भारतीय दूतावास ने यात्रियों और उनके परिजनों के लिए अलग- अलग भाषाओं के हॉटलाइन नंबर जारी किए हैं। ये नंबर हैं

प्रणव गणेश- +977-9851107006
ताशी खंपा- +977-98511550077
तरूण रहेदा- +9779851107021
राजेश झा- +9779818832398
योगानंद- +9779823672371(कन्नड़)
पिंडी नरेश- +9779808082292(तेलुगू)
आर मरुगम- +97798085006(तमिल)
रंजीत +977 9808500644 (मलयालम)

निरंजन कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here