PM पद का उम्मीदवार बताये जाने पर नितिन गडकरी बोले- ‘मुंगेरी लाल के हसीन सपने’

नितिन गडकरी: हमारे लिए देश सबसे ऊपर है. मैं सपने नहीं देखता, न तो मैं किसी के पास जाता हूं और न ही लॉबिंग करता हूं. मैं इस दौड़ में नहीं हूं.

0
354

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री पद (Prime Ministerial Candidate) का उम्मीदवार बनने की उनकी न तो कोई महत्वाकांक्षा है और न ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS)की उन्हें उम्मीदवार के रूप में पेश करने की कोई मंशा है. आगामी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में खंडित जनादेश आने की स्थिति में भाजपा (BJP) द्वारा गडकरी को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश करने को लेकर लग रहीं अटकलों के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि वह दौड़ में नहीं हैं और उन्होंने जोर देकर कहा कि उनका मंत्र ‘अथक काम’ करना है.

गडकरी ने कहा, ‘मैंने न तो राजनीति और न ही काम में कोई हिसाब-किताब किया, कभी कोई लक्ष्य तय नहीं किया. मैं तो चला, जिधर चले रास्ता. जो काम दिखा, करता गया. मैं अपने देश के लिए सर्वश्रेष्ठ काम करने में भरोसा करता हूं.’ भाजपा की ओर से उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने संबंधी अटकलों को खारिज करते हुए गडकरी ने स्पष्ट किया कि ‘न तो मेरे दिमाग में ऐसा कुछ है और न ही संघ की ऐसी कोई मंशा है. हमारे लिए देश सबसे ऊपर है. मैं सपने नहीं देखता, न तो मैं किसी के पास जाता हूं और न ही लॉबिंग करता हूं. मैं इस दौड़ में नहीं हूं… मैं अपने दिल से आपको यह बात बता रहा हूं.’

पूर्व भाजपा प्रमुख ने इन अटकलों के बारे में आगे कहा कि वह यह नहीं जानते कि लोग क्या सोच रहे हैं, लेकिन उनका ‘इससे दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है.’ गडकरी ने कहा कि वह और उनकी पार्टी ‘मोदीजी के पीछे मजबूती से खड़ी है और वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं.’ उन्होंने विपक्षी दलों के ‘महागठबंधन’ को ‘महामिलावट’ करार देते हुए कहा, ‘हमने जो काम किया है, उसे देखकर लगता है कि मोदीजी के नेतृत्व में हमें पिछली बार से अधिक सीटें मिलेंगी.’ गडकरी ने इस महीने की शुरुआत में प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने की होड़ में होने संबंधी अटकलों को ‘मुंगेरी लाल के हसीन सपने’ करार दिया था.

विपक्षी दलों के सदस्यों के भी प्रिय होने के बारे में गडकरी ने कहा कि उनके पास जो कोई भी आता है, वह सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ उसकी मदद करने में यकीन रखते हैं. यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस के अन्य सदस्यों ने लोकसभा में पिछले महीने गडकरी के ‘शानदार’ काम के लिए उनकी प्रशंसा की थी. गडकरी ने स्वयं को ‘अत्यधिक काम करने वाला’ व्यक्ति बताया और कहा कि केंद्र सरकार ने ढांचागत सुविधाओं समेत विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक स्तर पर काम किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here