पूर्णबहुमत वाली सरकार बनेगी – पीएम मोदी

2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए (NDA) 300 से ज्यादा सीटें लेकर फिर से सत्ता में वापसी करेगा। जनता ने 30 साल बाद पूर्ण बहुमत वाली सरकार चुनी है।

0
208

2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में एनडीए (NDA) 300 से ज्यादा सीटें लेकर फिर से सत्ता में वापसी करेगा। जनता ने 30 साल बाद पूर्ण बहुमत वाली सरकार चुनी है। जनमानस अब देश को अस्थिरता की ओर ले जाना नहीं चाहता है। ये बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने एक निजी टीवी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में कही।

उन्होंने कहा कि विपक्ष का गणित फेल हो गया है। जनता ने मन बना लिया है, फिर से एनडीए सरकार बनेगी और पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी। 30 साल की अस्थिरता के बाद अब देश स्थिरता चाहता है। देश को पूर्ण बहुमत की सरकार चाहिए। उन्होंने कहा कि पांच साल में हम इसलिए अच्छा कर पाएं हैं क्योंकि हमें देश की जनता ने बहुमत दिया है। आज विश्व पटल पर भी पूर्ण बहुमत से आए हुए राजनेता को दुनिया दूसरे नजरिए से देखती है।

पुलवामा हमले के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उस समय मैं उत्तराखंड के दौरे पर था। जब यह घटना हुई तो उस समय वहां भारी बारिश हो रही थी। रैली स्थल पर बारिश के कारण मेरा जाना संभव नहीं हो सकता था। इसलिए मैंने फोन पर रैली को संबोधित किया। ऐसे संवेदनशील मामले को तत्काल सार्वजनिक रूप से नहीं बोला जा सकता था, इसलिए मैंने वहां इसका जिक्र नहीं किया।

PM Modi ने कहा कि बालाकोट स्ट्राइक के लिए देश के कई इंस्टीट्यूशन ने काम किया। देश की आशा-अपेक्षाओं के अनुरुप काम करने के लिए सुरक्षाबलों को पूरी छूट दे दी गई थी। कभी भी ऐसी स्थिति बनती है जिसमें देश के जवानों के जीवन को खतरा होता है तो मैं अपने आप को अलग नहीं कर पाता। मैं उस ऑपरेशन के दौरान पूरी तरह शामिल था।

पुलवामा हमले को विपक्ष द्वारा साजिश बताए जाने और बालाकोट स्ट्राइक को इमरान खान के साथ मैच फिक्सिंग के आरोप पर कहा कि ऐसे सवालों के जवाब वही लोग दे सकते हैं जो इसके आदि होते हैं। इस देश का कोई व्यक्ति नरेंद्र मोदी के देशभक्ति पर शक नहीं कर सकता है। मेरा जीवन बोलता है मुझे शब्दों से बोलने की जरुरत नहीं है। अगर इस प्रकार का सोच देश के किसी राजनैतिक दल के नेतृत्व के पास है तो चिंता देश को करनी चाहिए। ऐसी मनस्थिति के लोग राजनैतिक स्वार्थ के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं, जिसे लेकर पूरे विश्व में सहानभूति का वातावऱण है।

ए-सैट परीक्षण पर पूछे गए सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के बयान में ज्ञान का अभाव नजर आता है। इसके लिए विश्व स्तर पर लंबी प्लानिंग की गई थी। जो ए-सैट के बारे में प्राथमिक ज्ञान भी नहीं रखते उनके हाथों में देश कैसे सुरक्षित रहेगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here