पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने भारत से फिर युद्ध करने की दी धमकी।

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) का हर सिपाही कश्मीर के लिए आखिर गोली, आखिर सिपाही, आखिर सांस तक लड़ेगा।

0
297

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर (Asif Gafur) ने भारत से फिर युद्ध की धमकी दी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) का हर सिपाही कश्मीर के लिए आखिर गोली, आखिर सिपाही, आखिर सांस तक लड़ेगा। पूरे पाकिस्तान को कश्मीर के साथ खड़े होने की बात भी कही। कहा कि पाक हर तरह से कश्मीरियों की मदद के लिए तैयार है। पाक जिम्मेदार रियासत देश है इस वजह से वो ऐसा कोई काम नहीं कर रहा है जिससे विश्व का अमन चैन खराब हो।

मेजर जनरल आसिफ गफूर (Asif Gafur) ने कहा कि मगर जब देश का अमन खतरे में पड़ जाए तो सभी को अपना किरदार जिम्मेदारी से अदा करना चाहिए। आसिफ गफूर पाकिस्तानी मीडिया को संबोधित कर रहे थे। पहले उन्होंने अपनी सेना की युद्ध की तैयारियों के बारे में बताया फिर कश्मीर का बीते 72 साल का माहौल बताया, उसके बाद मीडिया के सवालों के जवाब दिए।

उन्होंने मंच से कश्मीरियों को पैगाम दिया कि वो बीते 72 साल से उनके साथ खड़े है। सेना प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान को बनने और आजादी हासिल करने में लंबा समय लग गया था। मंच से कहा कि पाक कश्मीर के लिए किसी तरह से कोई कांप्रोमाइज नहीं करेगा। वो बार-बार यही कहते रहे कि पाकिस्तान युद्ध नहीं करना चाहता है मगर जब होगा तो वो हर तरह से जवाब देने के लिए सक्षम है। इससे पहले भी वो कई बार यही बात दुहारा चुके हैं।

उन्होंने कहा कि हुकुमते पाकिस्तान के पास कश्मीर के पास लाइन आफ एक्शन चल रहा है। कश्मीरी आवाम के साथ हमारा ताल्लुक है। उन्होंने मीडिया को फ्रंटलाइन का सोल्जर बताया।

साफ कहा कि यदि कश्मीर को मिलाने में कामयाब नहीं होते तो वार फाइटिंग होगी। पाकिस्तान आवाम, हुकूमत इसके लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान आखिर गोली, आखिर सिपाही आखिर सांस तक लड़ेगा। गफूर ने कहा कि हम कश्मीर के लोगों के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं और उनके लिए आखिरी गोली तक लड़ने के लिए तैयार हैं। कश्मीर में कहां के आतंकी पकड़े और एनकाउंटर में मारे जाते हैं ये किसी से छिपा नहीं है। अब पाकिस्तान वहां अमन चैन की बात कर रहा है।

इससे पहले भारतीय सेना की 15वीं कोर के जनरल आफिसर कमांडिंग लेफ्टनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने श्रीनगर में कहा था कि पाकिस्तान कश्मीर घाटी में अधिक से अधिक संख्या में आतंकवादियों की घुसपैठ कराना चाहता है, एक ऐसे ही प्रयास को विफल करके लश्करे तैयबा के दो आतंकवादियों को जिंदा पकड़ा गया था। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में नियंत्रण रेखा से लगे क्षेत्रों में आतंकवादी शिविर सक्रिय हैं और पाकिस्तानी सेना आतंकवादियों को राज्य में घुसपैठ कराने में मदद कर रही है। वो यहां की शांति व्यवस्था को खराब करना चाह रही है जिसे कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। पाकिस्तान कश्मीर में अमन चैन जैसी बातें करके वहां का माहौल खराब करने में लगा रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here