पाकिस्तान का NSG प्रस्ताव अमेरिका ने किया ख़ारिज, भारत को बताया अपना अच्छा दावेदार

0
304
ABASI VS TRUMP

अमेरिका ने पाकिस्तान को एक और झटका दिया है। यूएस ने पाकिस्तान की 7 कंपनियों को राष्ट्रीय सुरक्षा और नीति के लिए संकट बताते हुए प्रतिबंधित कंपनियों वाली सूची में डाल दिया है। अमेरिका के इस कदम से कयास लगाए जा रहे हैं कि उसके ‘न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप’ में शामिल होने के इरादे पर भी पानी फिर सकता है। यूएस ब्यूरो ऑफ इंडस्ट्री एंड सिक्‍योरिटी की ओर से पाकिस्‍तान के खिलाफ इस बड़े कदम का ऐलान किया गया है। ब्‍यूरो की ओर से कहा गया है कि अमेरिका की सुरक्षा और विदेश नीति के लिए खतरे को देखते हुए दुनिया की 23 कंपनियों को बैन किया गया है जिसमें पाकिस्तान की सात कंपनियां शामिल है।

पाकिस्तान ने 2016 में NSG की सदस्यता के लिए अपने नाम का प्रस्ताव रखा था। चीन ने भी इसका समर्थन किया था। जिस आधार पर भारत NSG में सदस्यता की मांग कर रहा है वही आधार पाकिस्तान का भी है। ब्‍यूरो ने कहा है कि इस तरह का कोई भी काम अमेरिका की विदेश नीति के हितों के खिलाफ है। ये सातों कंपनियां पाकिस्तान के न्यूक्लियर प्रोग्राम से तालुक रखती है। अमेरिका ने 23 प्रतिबंधित कं‍पनियों की लिस्‍ट पिछले हफ्ते सार्वजनिक की है। इस लिस्‍ट में आठ कंपनियां पाकिस्‍तान की हैं तो 15 साउथ सूडान की हैं। रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका की तरफ से कहा गया है कि ये कंपनियां परमाणु व्यापार में शामिल थीं जो देश की सुरक्षा के लिए खतरा हैं। इनमें से तीन कंपनियों पर आरोप है कि वे उन कंपनियों के लिए सामान खरीदने का काम करती थीं जो पहले से ही प्रतिबंधित हैं।

पाकिस्तान की इन कंपनियों के अलावा सिंगापुर की एक और दक्षिण सूडान की 15 कंपनियों को प्रतिबंधित लिस्ट में सामिल किया गया है। अमेरिका के वाणिज्य मंत्रालय ने यह लिस्ट प्रकाशित की है। अमेरिका के इस कदम को पाकिस्तान में आतंकवाद को मिल रही पनाह के खिलाफ भी देखा जा रहा है। पाकिस्‍तान के खिलाफ अमेरिका की इस कार्रवाई के बाद भारत एनएसजी का मजबूत दावेदार बनकर उभरा है। भारत और पाकिस्तान दोनों एनएसजी का सदस्य नहीं है और भारत पिछले दो वर्षों से इसकी सदस्‍यता की कोशिश कर रहा है। पिछले वर्ष रूस ने भारत की सदस्‍यता को समर्थन दिया था लेकिन चीन हमेशा इसमें अड़ंगा डालता है। भारत वासेनार समझौते, एमटीसीआर और ऑस्ट्रेलिया ग्रुप का सदस्य है।भारत की ही तरह पाकिस्‍तान ने भी एनएसजी की सदस्‍यता के लिए अप्‍लाई किया हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here