Coronavirus के मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच PM मोदी की अपील

देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या के बीच पीएम मोदी ने एक बाद फिर लोगों से ऐहतियात बरतने और जहां हैं वहीं रहने की अपील की है.

0
484

देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों की संख्या के बीच पीएम मोदी (PM Modi) ने एक बाद फिर लोगों से ऐहतियात बरतने और जहां हैं वहीं रहने की अपील की है. पीएम मोदी ने Tweet कर कहा कि कोरोना के भय से मेरे बहुत से भाई-बहन जहां रोजी-रोटी कमाते हैं, उन शहरों को छोड़कर अपने गांवों की ओर लौट रहे हैं. भीड़भाड़ में यात्रा करने से इसके फैलने का खतरा बढ़ता है. आप जहां जा रहे हैं, वहां भी यह लोगों के लिए खतरा बनेगा. आपके गांव और परिवार की मुश्किलें भी बढ़ाएगा. उन्होंने लोगों से अपील की कि आप जिस शहर में हैं कृपया कुछ दिन वहीं रहिए.

कोरोना के भय से मेरे बहुत से भाई-बहन जहां रोजी-रोटी कमाते हैं, उन शहरों को छोड़कर अपने गांवों की ओर लौट रहे हैं। भीड़भाड़ में यात्रा करने से इसके फैलने का खतरा बढ़ता है। आप जहां जा रहे हैं, वहां भी यह लोगों के लिए खतरा बनेगा। आपके गांव और परिवार की मुश्किलें भी बढ़ाएगा।

पीएम मोदी (PM Modi) ने एक अन्य Tweet में लिखा, ‘मेरी सबसे प्रार्थना है कि आप जिस शहर में हैं, कृपया कुछ दिन वहीं रहिए. इससे हम सब इस बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं. रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों पर भीड़ लगाकर हम अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. कृपया अपनी और अपने परिवार की चिंता करिए, आवश्यक न हो तो अपने घर से बाहर न निकलिए.

बता दें कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे से बचने लिए दिल्ली, मुंबई सहित कई शहरों से लोग घर को लौट रहे हैं. इस दौरान, देश के प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर काफी भीड़ देखी जा रही है. मुंबई में लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर यात्रियों की भारी भीड़ है. एक यात्री ने बता कि ट्रेनों में लोगों की काफी भीड़ है इसलिए मेरे पास कंफर्म टिकट होने के बावजूद सीट नहीं मिल रही है. कोरोना वायरस की वजह से मेरे परिवार ने मुझे वापस आने के लिए कहा है.

उधर, कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे को देखते हुए देश के अंदर महत्वपूर्ण दवाओं और चिकित्सा उपकरणों का उत्पादन सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार ने 1400 करोड़ रुपये की योजनाओं को मंजूरी दी है. प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने शनिवार को यह बात दवा उद्योग के व्यवसायियों से कही. एक आधिकारिक बयान में बताया गया है कि उन्होंने उद्योग जगत से कहा कि COVID-19 के लिए आरएनए नैदानिक (डायग्नोस्टिक) उपरकणों के निर्माण पर युद्ध स्तर पर काम करने के लिए जरूरी है. बयान के मुताबिक वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से उनके साथ वार्ता में मोदी ने कहा कि उद्योग जगत को न केवल आवश्यक दवाओं, चिकित्सकीय उपकरणों की आपूर्ति सुनिश्चित करनी चाहिए बल्कि उसे नए और अन्वेषी समाधान निकालने का प्रयास करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here