कोरोना के हालात को लेकर PM मोदी आज करेंगे बैठकें, प्रचार के लिए नहीं जाएंगे बंगाल।

बीजेपी के सभी वरिष्ठ नेताओं की पश्चिम बंगाल की रैलियाँ भी रद्द हुईं. पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैलियाँ रद्दकी गई हैं.

0
525

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोना के हालात की समीक्षा के लिए बैठक के चलते शुक्रवार की अपनी बंगाल यात्रा रद्द कर दी है. वे विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए पश्चिम बंगाल जाने वाले थे. प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट करके यह जानकारी दी. प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट करके यह जानकारी दी. उन्‍होंने लिखा, ‘कल कोविड-19 के हालात की समीक्षा के लिए उच्‍चस्‍तरीय बैठकों में हिस्‍सा लूंगा. इसके कारण पश्चिम बंगाल नहीं जा रहा हूं.

‘पीएम की ओर से बंगाल दौरे को रद्द किए जाने के बाद बीजेपी के सभी वरिष्ठ नेताओं की पश्चिम बंगाल की रैलियाँ भी रद्द हुईं. पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैलियाँ रद्दकी गई हैं. इससे पहले, पहले बीजेपी ने कहा था कि अधिकतम 500 लोगों की मौजूदगी वाली सभाएं होंगी. अब केवल जिला स्तर पर संपर्क के लिए स्थानीय नेता जनसभा करेंगे और वह भी ज़रूरत पड़ने पर. कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए यह फैसला किया गया है.

पीएम मोदी को बंगाल में चार रैलियों को संबोधित करना था. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार की अपनी तीन में से दो रैलियों को कैंसल कर दिया और पहली रैली को संबोधित करने के बाद ही दिल्‍ली लौटने का फैसला किया है.

यह पहली बार है कि प्रधानमंत्री ने चुनाव प्रचार के लिए अपने पश्चिम बंगाल दौरे को रद्द किया है. उन्‍हें यहां रैलियों को संबोधित करना था. ऐसे समय जब देश कोरोना की दूसरी लहर का समाना कर रहा है, पीएम व बीजेपी के अन्‍य नेताओं तथा पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की सभाओं में काफी भीड़ उमड़ रही है, इससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है.गौरतलब है कि कोरोना महामारी के दौरान ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई और उसकी उपलब्‍धता को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को भी दिल्‍ली में उच्‍चस्‍तरीय बैठक की.

गुरुवार की इस बैठक में अधिकारियों ने पीएम को पिछले कुछ सप्‍ताहों में ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई में सुधार के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी. पीएम ने इस दौरान ऑक्‍सीजन का उत्‍पादन बढ़ाने, ऑक्‍सीजन आपूर्ति की गति में तेजी लाने और इनावेटिक तरीकों से हेल्‍थ फेसिलिटी को ऑक्‍सीजन सपोर्ट मुहैया कराने जैसे पहलुओं पर तत्‍परता से काम करने की जरूरत बताई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here