प्रधानमंत्री मोदी को UAE में ‘Order Of Zayed’ से सम्मानित किया गया

UAE के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नाहयेन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'ऑर्डर ऑफ जायद' (Order Of Zayed) से सम्मानित किया है।

0
316

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नाहयेन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) को सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ (Order Of Zayed) से सम्मानित किया है।

प्रधानमंत्री द्विपक्षीय वार्ता के लिए आबूधाबी (Abu Dhabi) में हैं। UAE की राजधानी आबूधाबी मोदी की यात्रा उनके तीन देशों के दौरे का हिस्सा है। दो अन्य देशों में फ्रांस और बहरीन शामिल हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने Tweet किया था कि भारत-फ्रांस द्विपक्षीय संबंध और मजबूत हो रहे हैं। अपनी तीन देशों की यात्रा के पहले चरण के सफल समापन के बाद प्रधानमंत्री मोदी आबूधाबी के लिए रवाना हुए।

प्रधानमंत्री खाड़ी क्षेत्र के सबसे पुराने मंदिर श्रीनाथजी मंदिर के पुनर्विकास की औपचारिक शुरुआत के समय उपस्थित रहेंगे। इसके बाद वह G-7 की बैठक में शामिल होने के लिए रविवार को वापस फ्रांस जाएंगे।

UAE में रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने पेरिस में फ्रांस के राष्ट्रपति और दूसरे महत्वपूर्ण नेताओं के साथ मुलाकात की। आज उन्होंने भारतीय समुदाय को भी संबोधित करते हुए मौजूदा सरकार की उपलब्धियों को सामने रखा।

इस बार फ्रांस के बियारित्ज में इस सम्मेलन का 45वां संस्करण होने जा रहा है। इसमें दुनिया के टॉप नेताओं के बीच महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा होने वाली है। जी-7 दुनिया के सात सबसे विकसित और औद्योगिक महाशक्तियों का संगठन है।

इसे ग्रुप ऑफ सेवेन (G-7) के नाम से भी जाना जाता है। इस संगठन में अमेरिका, फ्रांस, इंग्लैंड, कनाडा, इटली, जर्मनी और जापान शामिल हैं। G-7 शिखर सम्मेलन में यूरोपीय संघ भी प्रतिनिधित्व करता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहरीन के दौरे पर राजधानी मनामा में 200 साल पुराने भगवान श्रीकृष्ण मंदिर के पुनर्निर्माण परियोजना का शनिवार को शुभारंभ करेंगे। इस परियोजना पर 42 लाख डॉलर की लागत आएगी। प्रधानमंत्री मोदी दो दिवसीय दौरे पर शनिवार को बहरीन पहुंचें।

वह मनामा में विशेष समारोह में श्रीनाथजी (श्री कृष्ण) मंदिर के पुनर्निर्माण परियोजना का शुभारंभ करेंगे। मोदी बहरीन की यात्रा करने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं। इस दौरान वह बहरीन के शासक शेख हमद बिन इसा अल खलीफा और अन्य नेताओं से भी मिलेंगे। उन्होंने ट्वीट किया कि बहरीन में प्रवासी भारतीयों के साथ बातचीत होगी।

खाड़ी क्षेत्र में भगवान श्रीनाथजी सहित पुराने मंदिरों के पुनर्निर्माण के लिए विशेष समारोह में उपस्थित रहना मेरे लिए सम्मान की बात होगी। थट्टाई हिंदू सौदागर समुदाय के अध्यक्ष बॉब ठाकेर ने कहा कि मंदिर का नवनिर्मित ढांचा 45,000 वर्ग फुट में होगा और इसके 80 फीसदी हिस्से में कहीं अधिक श्रद्धालुओं के लिए जगह होगी। मंदिर से लगा एक ज्ञान केंद्र और एक संग्रहालय भी होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here