पीएम मोदी – हम कभी कभी सुना करते थे कि भूकंप आएगा, लेकिन पांच सालों में कोई भूकंप नहीं आया।

आज विश्व में भारत का एक अलग स्थान बना है जिसका पूरा यश पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाले देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों को जाता है।

0
115

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने बुधवार को आगामी लोकसभा चुनाव (Loksabha Elections 2019) से पहले सदन में अपना आखिरी भाषण दिया। पीएम मोदी ने सदन के सभी सदस्यों की ओर से अध्यक्ष महोदया को सदन की कार्रवाई सुचारू रूप से चलाने के लिए धन्यवाद दिया। पीएम मोदी ने कहा कि 16वीं लोकसभा सबसे अधिक महिला सांसदों के लिए जानी जाएगी। इसमें 44 महिला सांसद पहली बार चुनकर आई थीं। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकाल में देश विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना है। इसके लिए यहां बैठे सभी सदस्य बधाई के पात्र है, क्योंकि नीति-निर्धारण का काम यहीं हुआ है।

-प्रधानमंत्री ने लोकसभा में अपने भाषण में कहा कि पहली बार पता चला की गले मिलने और गले पड़ने में क्या फर्क होता है।

-पीएम मोदी ने कहा कि इस सदन के सदस्य जब जनता के बीच जाएंगे तो वे गर्व से इन 5 वर्षों में सदन द्वारा काले धन और भ्रष्टाचार के विरुद्ध बनाए गए कानूनों के विषय में बता सकते हैं।

-आज विश्व में भारत का एक अलग स्थान बना है जिसका पूरा यश पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाले देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों को जाता है।

-इस सदन के सदस्यों ने 1,400 से अधिक निष्क्रिय कानूनों को समाप्त करने का भी काम किया है।

-सदन में पीएम मोदी ने कहा कि मुलायम सिंह यादव जी ने कामों के लिए मुझे आशीर्वाद दिया है।

-पीएम मोदी ने कहा कि हम कभी कभी सुना करते थे कि भूकंप आएगा, लेकिन पांच सालों में कोई भूकंप नहीं आया।

-पहली बार इस सदन के सदस्यों ने अपना वेतन न बढ़ाकर, देश के सामने एक उदाहरण पेश किया है।

-पीएम मोदी ने कहा कि सदन में आंखों की गुस्ताखियां भी की गईं।

– देश ने डिजिटल दुनिया में अपनी जगह बनाई है। अंतरिक्ष की दुनिया में भारत को बड़ी कामयाबी मिली है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here