99 प्रतिशत वस्तुओं को 18% GST में लाने की कोशिश में PM मोदी

0
514

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने लोकसभा चुनावों से पहले वस्तु एवं सेवा कर (GST) में राहत के संकेत दिए हैं। उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान मंगलवार को कहा कि केंद्र सरकार 99 फीसदी वस्तुओं को GST के 18% के स्लैब में लाने का प्रयास कर रही है। एक GST प्रणाली अब स्थापित हो चुकी है और हम चीजों को जितना हो सके उतना सरल करने की कोशिश में लगे हैं। GST का 28% का स्लैब केवल एक फीसदी लग्जरी उत्पादों (Luxury Goods) जैसी चुनिंदा वस्तुओं के लिए होगा।

पीएम ने कहा कि GST लागू होने से पहले देश में जहां केवल 65 लाख उद्यम ही पंजीकृत थे, अब इसमें 55 लाख की बढ़ोतरी हुई है। हमारा मानना है कि उद्यमों के लिए GST को अधिक से अधिक सरल किया जाना चाहिए। शुरुआती दिनों में जीएसटी अलग-अलग राज्यों में मौजूद वैट या उत्पाद शुल्क के आधार पर तैयार किया गया था। हालांकि समय-समय पर बातचीत के बाद कर व्यवस्था में सुधार हो रहा है।

मोदी ने कहा कि देश दशकों से GST की मांग कर रहा था। मुझे यह कहते हुए खुशी हो रही है कि GST लागू होने से व्यापार में बाधाएं दूर हो रही हैं और प्रणाली की दक्षता में सुधार हो रहा है। इसके साथ ही अर्थव्यवस्था में भी पारदर्शिता आ रही है।

भ्रष्टाचार पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, भारत में भ्रष्टाचार को सामान्य मान लिया गया था। अक्सर कहा जाता था कि यह तो चलता है। जब भी कोई आवाज उठाता था तो, सामने से आवाज आती थी, यह भारत है, यहां ऐसा ही चलता है। उन्होंने कहा कि जब कंपनियां कर्ज चुकाने में नाकाम रहतीं तो उनके मालिकों के साथ कुछ नहीं होता था। ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ विशेष लोगों से उन्हें जांच से सुरक्षा मिली हुई थी। हमारी सरकार भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ने को लेकर प्रतिबद्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here