पीएम मोदी की समृति ईरानी को चेतावनी, जल्द वापिस ली जाए फेक न्यूज़ गाइडलाइंस

0
281
PM AND SMRITI

भारत के पीएम मोदी ने प्रसारण मंत्रालय को चेतावनी देते हुए फ़र्जी खबरों की सूचनाओं को वापिस लेने को कहा है। साथ ही पीएम ने कहा कि इस मामले की सुनवाई सिर्फ प्रेस काउंसिल ऑफ़ इंडिया ही करेगा। बता दें सरकार ने ख़बरों को रोकने के लिए सोमवार को गाइडलाइंस भी जारी की है। गाइडलाइंस में कहा गया कि यदि कोई पत्रकार फर्जी तरीके से खबरें देते हुए पाया गया तो उसकी सरकारी तौर से मान्यता रद्द कर दी जाएगी।

अपनी एक विज्ञप्ति जारी करते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने कहा कि यदि किसी पत्रकार को फ़र्जी खबरें छापते पाया गया तो उनकी पत्रकारिता मान्यता 6 महीने तक खत्म कर दी जाएगी और अगर दूसरी बार ऐसा होता है तो पूरे साल के लिए उसकी मान्यता को निलंबित कर दिया जाएगा।
वहीं अगर तीसरी बार ऐसा होता है तो स्थाई रूप से उसकी मान्यता रद्द कर दी जाएगी यदि फ़र्जी खबर प्रिंट मीडिया के जरिए गई है तो उसे पीसीआई के पास और यदि इलेक्ट्रॉनिक के जरिये फर्जी खबर गई है तो एनबीए के पास शिकायत भेजी जाएगी जिसके बाद एजेंसी निर्धारित करेगी कि खबर सही है या नहीं मंत्रालय ने बताया कि इन एजेंसियों को 15 दिन में विश्लेषण करने के बाद सूचना सरकार को देनी है जिसके बाद निलंबन का फैसला किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here