बारिश से दिल्ली का मौसम हुआ सुहाना, पहाड़ों पर अगले 24 घंटों में ओलावृष्टि की संभावना

दिनभर आसमान में छाए बादलों के कारण मौसम पहले से ही सुहाना बना हुआ था, लेकिन रात में हुई बारिश ने लोगों को ठंडक प्रदान की।

0
144

सोमवार रात Delhi NCR के कई इलाकों में तेज और कई इलाकों में हल्की बारिश (Rain) होने से मौसम खुशगवार हो गया। हालांकि कुछ इलाकों में लोगों को तेज हवाओं और बादलों के गर्जन से ही संतोष करना पड़ा।

दिनभर आसमान में छाए बादलों के कारण मौसम पहले से ही सुहाना बना हुआ था, लेकिन रात में हुई बारिश ने लोगों को ठंडक प्रदान की। इस दौरान आसमान में घने बादलों का जमावड़ा रहा। हालांकि बारिश कुछ ही इलाकों में हुई। घने बादलों के बीच से दिल्ली में रातभर बिजली चमकती रही। इससे बारिश की ठंडक दूसरे इलाकों में भी पहुंची।

सोमवार को Delhi NCR के नोएडा में दिनभर चली ठंडी हवाओं एवं बादलों की आवाजाही से लोगों को राहत की सांस मिली। देर रात झमाझम बरसात भी हुई। पश्चिमी विक्षोभ के चलते शहर के बदले मौसम ने गर्मी से परेशान लोगों को चैन की सांस लेने का मौका दिया। दिनभर चली हवाओं से शहर का मौसम खुशनुमा बना रहा। मंगलवार को भी मौसम के बेहतर रहने के आसार हैं। मंगलवार को भी हवाओं के साथ-साथ बारिश से भी लोगों को राहत मिल सकती है। मौसम के बदलाव से शहर के तापमान में कमी आई है। सोमवार को अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम 28 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्से में लू की स्थिति बरकरार रहने का पूर्वानुमान किया है जबकि शेष इलाकों में जगह-जगह धूल भरी आंधी चलने और हल्की बारिश की बात कही है। आंधी 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है। सोमवार को हमीरपुर के अधिकतम तापमान में एक ही दिन में 10 डिग्री की गिरावट दर्ज हुई और यह 30.2 डिग्री सेल्सियस पर रहा। प्रदेश में सबसे अधिक तापमान बस्ती में 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

उत्तराखंड के सीमांत जिले में सोमवार सुबह से ही हवाओं का जोर रहा। मौसम विज्ञान विभाग ने अगले 24 घंटों में ओलावृष्टि की संभावना जताई है। सोमवार अपराह्न करीब पौने तीन बजे से मुनस्यारी में बारिश हुई। नाचनी में दोपहर करीब एक बजे से तेज हवाओं के साथ काफी देर तक बूंदाबादी हुई। जिला मुख्यालय में दोपहर तक मौसम गर्म रहा। शाम को ठंडी हवा चलने से लोगों को गर्मी से राहत मिली। भारत मौसम विज्ञान विभाग देहरादून ने सोमवार से अगले 24 घंटों में सीमांत जिले के साथ ही पर्वतीय क्षेत्रों में ओलावृष्टि की संभावना जताई है। कहा है कि जिले के विभिन्न हिस्सों में ओलावृष्टि से जनजीवन प्रभावित हो सकता है।

शिमला, धर्मशाला, डलहौजी समेत प्रदेश के अधिकतर क्षेत्रों में सोमवार को बारिश से मौसम सुहावना हो गया है। सूबे के मैदानी क्षेत्रों में बादल बरसने से चिलचिलाती गर्मी से लोगों को बड़ी राहत मिली है। सोमवार को रोहतांग, चंबा के पांगी और भरमौर में हिमपात होने से मौसम ठंडा हो गया है। दोपहर बाद धर्मशाला, मैक्लोडगंज में करीब चार घंटों तक बारिश और कुछ देर के लिए ओलावृष्टि हुई। कुल्लू के आनी में भी ओलों से जमीन सफेद हो गई। ओलावृष्टि से सेब समेत अन्य फसलों को नुकसान पहुंचा है। मंगलवार और बुधवार को भी प्रदेश में बारिश के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 20 जून से प्रदेश में मौसम साफ होने की संभावना जताई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here