मैं ईश्वर से कुछ नहीं मांगता, उन्होंने मुझे देने योग्य बनाया है – पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि मैं ईश्वर से कुछ नहीं मांगता और मांगने की प्रवृत्ति से सहमत भी नहीं हूं क्योंकि उन्होंने मुझे देने योग्य बनाया है।

0
418

केदारनाथ धाम (Kedarnath) में स्थित एक गुफा में करीब 17 घंटे ध्यान-साधना करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने रविवार सुबह एक बार फिर केदारनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की। इसके बाद उन्होंने कहा कि सबसे पहले मैं चुनाव आयोग का आभार मानता हूं कि दो दिनों का विराम मिल गया। उन्होंने कहा कि गुफा में एकांतवास का अवसर मिला।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कहा कि जब भी भगवान के चरणों में आता हूं, मैं कभी कुछ मांगता नहीं हूं। इससे पहले मोदी कल शनिवार अपराह्न दो बजे गुफा में ध्यान-साधना के लिये गये थे जहां उन्होंने रात्रि विश्राम भी किया। केदारनाथ में पूजा करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि मैं ईश्वर से कुछ नहीं मांगता और मांगने की प्रवृत्ति से सहमत भी नहीं हूं क्योंकि उन्होंने मुझे देने योग्य बनाया है।

पीएम मोदी (PM Modi) सुबह गुफा से बाहर आने के बाद छड़ी के सहारे ऊबड़-खाबड़ पहाड़ी रास्ते पर पैदल चलते हुए मंदिर पहुंचे। इस दौरान रास्ते में उन्होंने बर्फ से ढंकी पहाड़ियों का नजारा लिया तथा कुछ क्षणों तक मंदाकिनी नदी के किनारे एक पत्थर पर भी बैठे रहे। इस दौरान प्रधानमंत्री ने धाम में मौजूद श्रद्धालुओं तथा स्थानीय जनता का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। मंदिर पहुंचने के बाद पीएम मोदी ने भगवान शिव की आराधना कर उनका जलाभिषेक किया।

इससे पहले चुनावी शोरगुल खत्म होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को उतराखंड के केदारनाथ धाम पहुंचे थे। केदारनाथ धाम यात्रा के दौरान पीएम मोदी का एक अलग रंग नजर आया, जहां उनके परिधान ने सबको अपनी ओर आकर्षित किया। उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र में 11755 फीट की उंचाई पर स्थित केदारनाथ में मोदी स्लेटी रंग का चोगा, पहाड़ी टोपी और कमर में केसरिया गमछे में नजर आये और हैलीपैड से केदारनाथ मंदिर तक का पैदल रास्ता उन्होंने पहाड़ी अंदाज में छड़ी लेकर तय किया। इसके बाद पीएम मोदी केदारनाथ धाम मंदिर के निकट एक गुफा में ध्यान लगाने की मुद्रा में भी दिखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here