जो लाठियां हम पर चलीं काश वो हाथरस की बेटी की रक्षा के लिए चलतीं : प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, 'हाथरस जाने से हमें रोका। राहुल जी के साथ हम सब पैदल निकले तो बार-बार हमें रोका गया, बर्बर ढंग से लाठियां चलाई गईं।

0
591

हाथरस पीड़िता की मौत (Hathras case) के बाद से पूरे देश में उबाल है और इस मामले पर राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को पुलिस ने गुरुवार को सामूहिक दुष्कर्म की पीड़िता के परिवार से मुलाकात के लिए हाथरस जाने से रोक दिया। बाद में दोनों को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए जाने से पहले दोनों ने राज्य में जंगलराज होने और पुलिस द्वारा लाठियां चलाने का आरोप लगाया।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, ‘हाथरस जाने से हमें रोका। राहुल जी के साथ हम सब पैदल निकले तो बार-बार हमें रोका गया, बर्बर ढंग से लाठियां चलाई गईं। कई कार्यकर्ता घायल हैं। मगर हमारा इरादा पक्का है। एक अहंकारी सरकार की लाठियां हमें रोक नहीं सकती हैं। काश यही लाठियां, यही पुलिस हाथरस की दलित बेटी की रक्षा में खड़ी होती।’
      
वहीं, राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को न डरने की नसीहत दी। राहुल ने ट्वीट किया, ‘दुख की घड़ी में अपनों को अकेला नहीं छोड़ा जाता है। यूपी में जंगलराज का यह आलम है कि शोक में डूबे एक परिवार से मिलना भी सरकार को डरा देता है। इतना मत डरो, मुख्यमंत्री महोदय।’ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि भाजपा का नारा ‘बेटी बचाओ’ नहीं बल्कि ‘तथ्य छिपाओ, सत्ता बचाओ’ है।
 
इससे पहले प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर हाथरस कांड की पीड़िता के पिता का एक वीडियो साझा किया था। इस वीडियो के साथ उन्होंने लिखा, ‘हाथरस की बेटी के पिता का बयान सुनिए। उन्हें जबरदस्ती ले जाया गया। सीएम से वीसी के नाम पर बस दबाव डाला गया। वो जांच की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं। अभी पूरे परिवार को नजरबंद रखा है। बात करने पर मना है। क्या सरकार उन्हें धमकाकर उन्हें चुप कराना चाहती है?’

बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी हाथरस जाने के लिए दिल्ली से रवाना हुए थे। उनके साथ हजारों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता भी थे। उन्हें यमुना एक्सप्रेसवे पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने रोक दिया था। इसके बाद दोनों नेता पैदल ही हाथरस के लिए चल पड़े थे। हालांकि थोड़ी दूरी पर राहुल की पुलिस के साथ धक्का-मुक्की हो गई। इसके बाद पुलिस राहुल और प्रियंका को जीप में बैठाकर F-1 गेस्टहाउस ले गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here