कुलदीप सेंगर को पार्टी से निकालने पर प्रियंका गांधी ने कहा – BJP ने एक अपराधी को ताकत दे रखी थी।

प्रिंयका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को कटाक्ष करते हुए Tweet किया कि आखिरकार सत्तारूढ़ पार्टी ने मान लिया कि उसने एक 'अपराधी' को ताकत दे रखी थी.

0
385

उन्नाव रेप पीड़िता (Unnao rape Victim) के एक्सीडेंट को लेकर मचे सियासी घमासान के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर (Kuldeep Sengar) को पार्टी से निकाल दिया. कुलदीप सेंगर को पार्टी से निकालने को लेकर कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टियां भारतीय जनता पार्टी पर लगातार हमलावर रही, जिसके बाद BJP को यह फैसला लेना पड़ा. कांग्रेस महासिचव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भी इसे लेकर बीजेपी पर लगातार हमला बोल रही थी.

प्रिंयका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने गुरुवार को कटाक्ष करते हुए Tweet किया कि आखिरकार सत्तारूढ़ पार्टी ने मान लिया कि उसने एक ‘अपराधी’ को ताकत दे रखी थी. प्रियंका गांधी ने Tweet कर कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट की आभारी हूं कि उसने उत्तर प्रदेश में ‘जंगलराज’ का संज्ञान लिया.’ उन्होंने लिखा, ‘इस बीच, भाजपा ने आखिरकार मान लिया कि उसने एक अपराधी को ताकत दी थी और खुद को सही करने एवं एक युवती के लिए न्याय की दिशा में बढ़ने के लिए कुछ कदम उठाया.’

इससे पहले आज ही प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने बीजेपी (BJP) पर निशाना साधा था. प्रियंका गांधी Tweet कर बाराबंकी में एक छात्रा द्वारा पुलिस से सवाल किए जाने संबंधी खबर शेयर करते हुए Tweet किया था, ‘अगर कोई रसूख वाला-बड़ा इंसान कुछ गलत करता है तो उसके खिलाफ हमारी आवाज सुनी जाएगी क्या? यह बाराबंकी की एक छात्रा का ‘बालिका जागरूकता रैली’ के दौरान यूपी सरकार से पूछा गया सवाल है.” यही सवाल आज उत्तर प्रदेश की हर महिला और बच्ची के मन में है. बीजेपी जवाब दो.

इससे पहले प्रियंका गांधी ने Tweet कर पूछा था कि भाजपा किस बात का इंतजार कर रही है और बलात्कार के आरोपी विधायक को पार्टी से क्यों नहीं निकाल रही? प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने Tweet किया था, ‘भाजपा किस बात का इंतजार कर रही है? पार्टी इस व्यक्ति को निकाल क्यों नहीं रही है, जबकि उसका नाम उन्नाव बलात्कार कांड में हाल में हुई दर्ज एफआईआर में भी है.’ उन्होंने इस Tweet के साथ हैशटैग ‘बीजेपी सैक सेंगर’ भी लिखा यानी भाजपा सेंगर को बर्खास्त करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here