राजस्थान: 6 साल की बच्ची का रेप, 1 दिन बाद मिला शव

राजस्थान के टोंक जिले में शनिवार को लापता हुई 6 साल की बच्ची का शव स्कूल की ड्रेस में रविवार को मिला.

0
500

Tonk, Rajasthan: राजस्थान के टोंक जिले में शनिवार को लापता हुई 6 साल की बच्ची का शव स्कूल की ड्रेस में रविवार को मिला. पुलिस ने रविवार को बताया कि बच्ची के साथ कथित तौर पर रेप किया गया है और उसके बाद उसकी स्कूल की बेल्ट से गला दबाकर मार डाला गया. बच्ची का शव उसके गांव के पास एक सूनसान जगह पर झाड़ियों में पड़ा था. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वारदात की जगह शराब की बोतलें, स्नेक्स और खून के धब्बे मिले हैं.

पुलिस के मुताबिक बच्ची के स्कूल में शनिवार को स्पोर्ट्स कंपीटिशन था और उसके बाद वह लापता हो गई. बच्ची जब दोपहर तीन बजे तक घर नहीं पहुंची तो उसके घरवालों ने उसे तलाश करना शुरू कर दिया. कई घंटों तक खेतों और रिश्तेदारों के घरों में उसे ढूंढ़ा गया. रविवार सुबह बच्ची का शव उसके स्कूल से करीब आधा किलोमीटर दूर खून से सना हुआ मिला. मौके पर लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई और गुस्से में प्रदर्शन शुरू कर दिया. पुलिस और फोरेंसिक टीम मामले की जांच कर रही हैं.

बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है. एसपी आदर्श सिधू ने कहा कि शुरुआती जांच में रेप और मर्डर की बातें सामने आ रही हैं. उन्होंने कहा, ‘हम आरोपियों को पकड़ने के लिए मामले की जांच कर रहे हैं. हमने इसके लिए विशेष टीमों का गठन किया है.’

वहीं, महाराष्ट्र में नागपुर के पारडी इलाके में चार वर्षीय बच्ची के साथ उसके घर में कथित रूप से बलात्कार करने की कोशिश करने पर 35 वर्षीय व्यक्ति को रविवार शाम निर्वस्त्र कर घुमाया गया. एक अधिकारी ने बताया कि स्थानीय लोगों ने आरोपी जवाहर वैद्य को पीटा और उसके हाथों को रस्सी से बांधकर उसे निर्वस्त्र करके सड़क पर घुमाया. उसके बाद उन्होंने उसे पुलिस के हवाले कर दिया.

वैद्य शहर में एक सहकारी सामाजिक बैंक के लिए दैनिक नकद संग्रह एजेंट के रूप में काम करता है. अधिकारी ने बताया कि वैद्य नकद लेने के लिए हर रोज बच्ची के घर जाता था. उसने रविवार शाम को बच्ची को अकेला पाकर उसका यौन उत्पीड़न करने की कोशिश की. बच्ची की मां अचानक घर लौट आई और उसने शोर मचा दिया जिसके बाद पड़ोसी मौके पर पहुंच गए.

घटना की बात फैलते ही स्थानीय लोग वहां एकत्र हो गए और उन्होंने वैद्य को पीटा. बाद में उसे पुलिस को सौंप दिया गया. पारडी पुलिस थाने में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और बच्चों के यौन अपराधों से संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here