आरबीआई की मौद्रिक निति समिति में नहीं होगा कोई बदलाव, बरक़रार रहेगा 6% रीपो रेट

0
209
RBI

नए ब्याज दर और नए वित्त वर्ष को लेकर एक बार फिर सभी की उम्मीदों पर पानी फिर गया है। 1 अप्रैल को सभी वर्गों का वित् वर्ष शुरू होने के साथ बैंकिंग प्रणाली ने भी अपने नियमो में काफी बदलाव किए हैं। जहां एक और बैंक ने नई सुविधाएं दी वहीं दूसरी और लोगों को ब्याज की दरों में कोई बदलाव न करके करारा झटका दिया है। ऐसे में सरकार इस बार ब्याज़ भी ब्याज 5.75 फ़सदी की दर से ही रिपो रेट 6 फीसदी तक ही बरक़रार रखा है।

बता दें इस बार आरबीआई महंगाई की दर घटाकर 4.7 से 5.1 फीसदी कर दी है पिछले साल महंगाई की दर 5.1 फीसदी से 5.6 फीसदी तक बढ़ने का अनुमान जताया गया था। केंद्रीय बैंक की रिपोर्ट के अनुसार इस साल वित्त वर्ष शुरुआत में महंगाई 4.7 से 5.1 फीसदी तक बताया गया है वहीं अक्टूबर 2018 से 2019 के दौरान महंगाई की रन रेड 4.4 फीसदी तक रहने की आशंका जताई जा रही है।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here