सत्यपाल मलिक: अगर पाकिस्तान बाज़ नहीं आया तो अंदर घुसकर आतंकी कैंपों को नष्ट करेगे।

सत्यपाल मलिक - अगर पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधियों को खत्म नहीं करता है तो सेना अंदर तक घुसकर आतंकी कैंपों को नष्ट करेगी।

0
385

Jammu Kashmir- जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) ने पाकिस्तान को सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधियों को खत्म नहीं करता है तो सेना उनके खिलाफ रविवार की कार्रवाई से भी ज्यादा आगे जाते हुए और अंदर तक घुसकर आतंकी कैंपों को नष्ट करेगी। राज्यपाल सोमवार को श्रीनगर के बाहरी क्षेत्र जेवन में स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में जम्मू कश्मीर पुलिस के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे।


सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) ने कहा, हम आतंकी शिविरों को पूरी तरह से बरबाद कर देंगे यदि पाकिस्तान बाज नहीं आया तो हम और अंदर घुस कर मारेंगे। उन्होंने कहा कि जंग बुरी चीज है, पाकिस्तान को समझना चाहिए, यदि वह नहीं संभला तो जो रविवार को हुआ आगे उससे ज्यादा होगा।

मलिक ने कश्मीर के युवाओं को कश्मीर को आगे बढ़ाने में योगदान देने की अपील करते हुए कहा कि एक नवम्बर से एक नया कश्मीर देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा, यहां के लोगों को मैं यह कहना चाहता हूं कि वह नए कश्मीर में अपनी हिस्सेदारी करें और इसे आगे बढ़ाएं।

रविवार को कुपवाड़ा में पाकिस्तान की संघर्ष विराम उल्लंघन की कार्रवाई के बाद सेना की जवाबी कार्रवाई पर उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ऐसी नापाक हरकतें रोज करता रहता है ऐसे में उसे कहीं न कहीं रोकना पड़ेगा। इस र्कावाई के बाद भी अगर पाकिस्तान नहीं सुधरा तो और बड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि रविवार को टंगधार सेक्टर में पाकिस्तान के संघर्ष विराम उलंघन के दौरान एक स्थानीय नागरिक की मौत हुई थी जबकि दो जवान भी शहीद हुए थे। इतना ही नहीं 3 स्थानीय नागरिक भी घायल हुए थे। भारत ने सख्त जवाबी कार्रवाई करते हुए चार आतंकी कैंप नष्ट करने के साथ ही 9 से 10 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया था। जबकि लगभग 26 आतंकी घायल हुए थे।

इससे पहले पुलिस स्मरण दिवस के मौके पर जम्मू कश्मीर पुलिस के जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि हमें अपने शहीदों को याद करना चाहिए। जो लोग अपने शहीदों को याद नहीं करते वो देश बरबाद हो जाता है।

जम्मू कश्मीर पुलिस की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य से अनुछेद 370 हटाये जाने के बाद घाटी में आतंकियों और अलगाववादियों द्वारा हालात बिगाड़ने की कोशिश करने की पूरी आशंका थी, लेकिन जम्मू कश्मीर पुलिस ने कानून व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने में एक अच्छा योगदान दिया है जिसकी हम सरहाना करते हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि यह भी कोशिश की जाएगी कि शहीदों को मिलने वाले एक्स्ग्रेशिया को 70 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ किया जाए। राज्यपाल ने देशभर में शहीद हुए जम्मू कश्मीर पुलिस व अन्य सुरक्षा बलों के जवानों व अफसरों को इस मौके पर याद किया। देस के विभिन्न हिस्सों में शहीद हुए 292 सुरक्षा बल कर्मियों में जम्मू कश्मीर पुलिस के 30 अफसर व जवान भी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here