सउदी अरब ने कनाडा से व्यापार पर फिलहाल लगाई रोक, कनाडाई राजदूत को भेजा वापस

0
280

सऊदी अरब ने अपने आंतरिक मामले में कनाडाई हस्तक्षेप का आरोप लगाकर कनाडाई उच्चायुक्त को वापस भेज दिया है और टोरॉन्टो में मौजूद अपने राजदूत को भी वापस बुला लिया है। इसके साथ ही सऊदी ने कनाडा के साथ सभी तरह के नए व्यापार और निवेश पर भी रोक लगा दी है।

दरअसल सऊदी अरब ने यह कदम कनाडा की उस अपील के बाद उठाया है जिसमें रियाद में गिरफ्तार किए गए नागरिक अधिकार कार्यकर्ता की रिहाई की मांग की गई थी। सऊदी अरब ने कनाडा की इस मांग को उसके आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप बताया है।

दरअसल सऊदी अरब का यह कदम शहजादे मोहम्मद बिन सलमान की आक्रामक विदेश नीति का नमूना माना जा रहा है। हाल ही में सऊदी अरब ने बड़ी कार्रवाई के तहत कई नागरिक अधिकार कार्यकर्ताओं को जेल में डाल दिया था। कनाडा ने इन कार्यकर्ताओं की तुरंत रिहाई की मांग की थी।

सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा कि, ‘कनाडा का पक्ष सऊदी अरब के आंतरिक मामलों में स्पष्ट हस्तक्षेप है।’ विदेश मंत्रालय ने अगले ट्वीट में कहा, ‘हम घोषणा करते हैं कि हम कनाडा में सऊदी के राजदूत को परामर्श के लिए बुला रहे हैं। इसके साथ ही कनाडा के राजदूत को अगले 24 घंटे में देश छोड़ने का आदेश देते हैं।’ मंत्रालय ने यह भी घोषणा की कि अगली कार्रवाई के अधिकार के तहत कनाडा के साथ सभी नए व्यापार और लेनदेन पर फिलहाल रोक रहेगी।

बीते हफ्ते कनाडा ने कहा था कि वह सऊदी में महिलाओं और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की एक नई लहर पर बेहद चिंतित है। गिरफ्तार किए गए कार्यकर्ताओं में पुरस्कार पा चुकीं जेंडर राइट ऐक्टिविस्ट समर बादवी भी शामिल हैं।

बादवी को उनकी सहयोगी प्रचार नसीमा अल-सदाह के साथ बीते हफ्ते गिरफ्तार किया गया था। सऊदी सरकार ने हाल के दिनों में महिला अधिकार कार्यकर्ताओं पर कई कार्रवाई की हैं। सऊदी विदेश मंत्रालय ने कनाडाई बयान पर गुस्सा भी जाहिर किया और कहा कि ‘कनाडा के बयान में ‘तुरंत रिहाई’ का इस्तेमाल दो देशों के संबंधों में बहुत दुर्भाग्यपूर्ण, गलत और अस्वीकार्य है।’

निरंजन कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here