समुद्री रास्ते से पाक कमांडोज के भारतीय क्षेत्र में घुसने की जानकारी के बाद गुजरात के बंदरगाह अलर्ट पर

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पाकिस्तान बौखला गया है। दुनिया भर में मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान अब भारत में गड़बड़ी फैलाने की कोशिश में है।

0
813

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाने के बाद पाकिस्तान बौखला गया है। दुनिया भर में मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान (Pakistan) अब भारत में गड़बड़ी फैलाने की कोशिश में है। खबर है कि पाकिस्तानी कमांडो समुद्री रास्ते के जरिए भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कर सकते हैं। हालांकि सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हैं और दिल्ली से लेकर गुजरात तक हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

गुजरात के कांडला बंदरगाह (Kandla Port) की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। ऐसी खुफिया जानकारी मिली है कि पाकिस्तानी कमांडो कच्छ क्षेत्र के समुद्री रास्ते के जरिए भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कर सकते हैं। ये यहां पर सांप्रदायिक सद्भाव में खलल डाल सकते हैं या गुरजात में आतंकी हमलों को अंजाम दे सकते हैं।

खुफिया सूत्रों द्वारा मिले इनपुट के बाद अन्य सुरक्षा एजेंसियों के साथ सीमा सुरक्षा बल (BSF) और भारतीय तटरक्षक बलों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। खबर है कि पाकिस्तान प्रशिक्षित एसएसजी कमांडो या आतंकवादी छोटी नौकाओं का उपयोग करके कच्छ की खाड़ी और सर क्रीक क्षेत्र में घुसपैठ करने के प्रयास में हैं। इलाके में सतर्कता और गश्त बढ़ाई जा रही है।

खुफिया एजेंसियों के अलर्ट का कहना है कि पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन कांडला में एक आत्मघाती हमले को अंजाम दे सकते हैं। गुजरात के एक उच्च पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘सभी सुरक्षा एजेंसियों के लोग कांडला बंदरगाह पहुंच गए हैं और वहां की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। तटरक्षक बल, नौसेना, समुद्री पुलिस और स्थानीय पुलिस स्थिति को गंभीरता से ले रहे हैं और जरूरी कदम उठा लिए गए हैं। गुजरात तट के सभी बंदरगाहों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।’

राज्य रिजर्व पुलिस (एसआरपी) के लगभग 60 जवानों को चेकप्वाइंट पर तैनात किया गया है जो हल्की मशीनगनों से लैस हैं। उच्च पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘हमने उन्हें हथियार और टायर किलिंग बेल्ट दी हुई हैं जिससे कि वह उन गाड़ियं को रोक सकें जो बैरिकेड तोड़कर अंदर आने की कोशिश करेंगी।’ इसी बीच केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के 100 कमांडों के एक दस्ते को आतंकवाद-निरोधी सेवा में नियुक्ति कर दी गई है। इस दस्ते का नेतृत्व सहायक कमांडेंट-रैंक अधिकारी कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here