शामली ट्रेन हादसे को कवर करने गए पत्रकार की पिटाई, पुलिसकर्मियों ने छीना कैमरा

यूपी के शामली जनपद में मालगाड़ी के डिब्बे पटरी से उतरने की रिपोर्ट तैयार कर रहे पत्रकार की जीआरपी पुलिसकर्मियों ने गालियां देते हुए पिटाई की और कमरा भी तोड़ दिया।

0
235

Shamli, UP: यूपी के शामली जनपद में मालगाड़ी के डिब्बे (Goods train derailment) पटरी से उतरने की सूचना पर जीआरपी पुलिस (GRP personnel) मौके पर पहुंच गई। इस दौरान एक पत्रकार भी मौके पर पहुंच गया और रिपोर्ट तैयार करने लगा। इसी दौरान जीआरपी पुलिसकर्मियों ने गालियां देते हुए उसके साथ मारपीट कर दी।

आरोप है कि जीआरपी पुलिसकर्मी (GRP personnel) सादे कपड़ों में थे। पत्रकार का आरोप है कि पुलिस वालों ने पहले कैमरा छीन लिया और फिर मुंह में पेशाब कर दिया। इसके बाद उसे लॉकर में बंद कर दिया।

शामली (Shamli) शहर के बीचों बीच पड़ने वाले धीमानपुरा (Dhimanpura) फाटक के आसपास रेलवे ट्रैक पर घुप अंधेरा था। फाटक बंद था। स्टेशन की तरफ से मालगाड़ी आई, फाटक से कुछ आगे गई और ट्रैक बदलते ही जैसे आगे बढ़ी तेज धमाका हुआ और मालगाड़ी के दो पहिए ट्रैक से नीचे उतर गए। आसपास से गुजर रहे लोग भी धमाकों से दहल गए।

हादसे के वक्त घटना स्थल से कुछ दूर पेड़ के नीचे बैठे लोगों ने बताया कि घटना के वक्त धीमानपुरा फाटक बंद था। अचानक तेज धमाका हुआ। बहुत तेज कुछ घिसटने की आवाज आई। वे डर गए। समझ नहीं सके कि आखिर क्या हुआ है। कुछ देर बाद मामला पता चला।

वहां से गुजर रहे रामकिशोर नाम के व्यक्ति ने बताया कि हादसे से पहले इतना तेज धमाका हुआ कि वे दहल गए। रेलवे ट्रैक पर अंधेरा था, कुछ जिधर से आवाज आई उधर भागे। वहां पता चला कि मालगाड़ी के डिब्बे ट्रैक से उतर गए हैं। कुछ लोगों ने बताया कि इस वक्त अक्सर लोग ट्रैक के पास नीचे जमीन में बैठे रहते हैं। संयोग से उस वक्त आसपास कोई नहीं था वरना वे भी चपेट में आ सकते थे।

शामली-सहारनपुर रेलमार्ग पर शामली स्टेशन के यार्ड में हुए हादसे के बाद दिल्ली सहारनपुर -रेलमार्ग पर आने वाली कई ट्रेनों को बीच रास्ते में ही रोक दिया गया। दरअसल, क्षतिग्रस्त हुई मालगाड़ी में रेलवे ट्रैक पर डलने वाली बजरी भरी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here