कंगना के दफ्तर पर BMC की कार्रवाई को लेकर बोले शरद पवार- दी गई गैर-जरूरी पब्लिसिटी

कंगना के बयान पर पवार ने कहा कि उनके बयानों को अनुचित महत्व दिया जा रहा है। पवार ने कहा कि लोग उनके बयानों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

0
650

शिवसेना से विवाद के बाद BMC की कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के दफ्तर पर कार्रवाई को लेकर उद्धव सरकार में सहयोगी और NCP प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने प्रतिक्रिया दी है। पवार ने कहा है इस मामले में गैर-जरूरी पब्लिसिटी दी गई। वहीं, कंगना के बयान पर पवार ने कहा कि उनके बयानों को अनुचित महत्व दिया जा रहा है। पवार ने कहा कि लोग उनके बयानों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

कंगना हाल ही में उस समय विवादों में घिर गईं, जब उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से की और कहा कि उन्हें मुंबई पुलिस से ज्यादा डर लगता है। पवार ने संवाददाताओं से कहा कि हम ऐसे बयान देने वालों को गैरजरूरी महत्व दे रहे हैं। हमें देखना होगा कि लोगों पर इस तरह के बयानों का क्या प्रभाव पड़ता है।

कंगना के दफ्तर पर BMC की कार्रवाई पर शरद पवार ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि वहां कुछ गैर-कानूनी है या नहीं। मैंने अखबारों में ही सिर्फ पढ़ा है। बिना पूरी जानकारी हुए, इसपर कमेंट करना सही नहीं होगा। मुंबई में अवैध निर्माण कोई नया नहीं है। हालांकि, BMC की कार्रवाई ने लोगों को शक पैदा करने का मौका दे दिया है। हो सकता हो कि नियमों के हिसाब से बीएमसी के अधिकारियों को कार्रवाई करना सही लगा हो।’

उन्होंने कहा, ‘मेरी राय में, लोग (ऐसे बयानों को) गंभीरता से नहीं लेते हैं।’ शरद पवार ने कहा कि महाराष्ट्र और मुंबई के लोगों को राज्य और नगर की पुलिस के काम के संबंध में ‘वर्षों का अनुभव’ है। उन्होंने कहा, ‘वे (लोग) पुलिस के काम को जानते हैं। इसलिए हमें इस पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है कि कोई क्या कहता है।’

हाल ही में मिली धमकी के बारे में पूछे जाने पर एनसीपी नेता पवार ने कहा, ‘मुझे अभी-अभी धमकी भरे कॉल का रिकॉर्ड दिया गया है और कॉल कहां से किए गए थे। विगत में भी मुझे कॉल आए हैं। हम इसे गंभीरता से नहीं लेते हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here