शत्रुघ्न सिन्हा ने दी सफाई कहा “ज़ुबान फिसल गयी थी”

शत्रुघ्न सिन्हा ने जिन्ना वाले बयान पर कहा, वह जुबान फिसलने के चलते हुए, मैं मौलाना आजाद कहना चाहता था लेकिन मोहम्मद अली जिन्ना निकल गया।

0
1086

भारतीय जनता पार्टी (BJP) छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने मोहम्मद अली जिन्ना वाले बयान पर सफाई देते हुए कहा है कि मेरी जुबान फिसल गई थी। शत्रुघ्न ने कहा था कि भारत की आजादी और विकास में जिन्ना का भी योगदान है। सिन्हा शुक्रवार को छिंदवाड़ा में कांग्रेस उम्मीदवार नकुलनाथ का प्रचार करने आए थे।

बिहार की पटना साहिब सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा ने जिन्ना वाले बयान पर कहा कि कल मैंने जो कहा, वह जुबान फिसलने के चलते हुए। उन्होंने कहा कि मैं मौलाना आजाद कहना चाहता था लेकिन मोहम्मद अली जिन्ना निकल गया। उन्होंने कहा कि मुझे बयान पर अफसोस नहीं है क्योंकि यह जुबान फिसल गई थी। उन्होंने कहा कि नियत तो अच्छी थी।

मध्य प्रदेश के छिंदवाडा ने कहा था कि कांग्रेस परिवार महात्मा गांधी से लेकर सरदार वल्लभ भाई पटेल, मो. अली जिन्ना से लेकर जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी से लेकर राजीव गांधी और राहुल गांधी, इनसे पहले सुभाषचंद्र बोस, इनकी पाटीर् है। जिनका देश विकास, देश की तरक्की में, देश की आजादी में सबसे महत्वपूर्ण और सबसे बड़ा योगदान है। यही कारण है कि मैं यहां आया हूं और पहली और आखिरी बार कांग्रेस पार्टी में आ गया हूं तो वापस मुड़कर कहीं नहीं जाऊंगा। भाजपा पर तंज कसने के साथ पार्टी छोड़ने की बात पर शायराना अंदाज में सिन्हा ने कहा, “कुछ तो मजबूरियां रहीं होंगी वरना यूं ही कोई बेवफा नहीं होता।

सिन्हा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ और नकुलनाथ की मौजूदगी में भाजपा पर जमकर हमला बोला और कहा, “भाजपा वन मेन शो एंड टू मेन आमीर है, देश और पाटीर् उनके लिए मायने नहीं रखती हैं।” उन्होंने आगे कहा, “मेरा विश्वास है कि व्यक्ति से बड़ी पार्टी होती है, पार्टी से बड़ा देश होता है। लेकिन भाजपा में उल्टा हो रहा। एक के बाद एक ऐसे फैसले हुए जिसने देश के विकास में बाधा डाली। नोटबंदी खत्म ही नहीं हुई कि अचानक जीएसटी की घोषणा कर दी। कई संशोधन किए। भगवान के मंदिर में पूजा की थाली से लेकर गुरुद्वारे के लंगर पर भी टैक्स लगा दिया गया।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here