महाराष्ट्र सरकार में सबकुछ ठीक नहीं? कांग्रेस पर निशाना साध शिवसेना ने पूछा- क्यों चरमरा रही खटिया

शिवसेना ने सामना में कांग्रेस पर हमला बोला है। सामना के संपादकीय में कांग्रेस को खूब खरीखोटी सुनाई गई है।

0
1381

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के नेतृत्व वाली महाविकास अघाड़ी सरकार में अनबन नजर आ रही है। इसे लेकर शिवसेना ने सामना में कांग्रेस पर हमला बोला है। सामना के संपादकीय में  कांग्रेस को खूब खरीखोटी सुनाई गई है। इसमें लिखा गया है, ‘खाट पर बैठे अशोक चव्हाण ने भी इंडियन एक्सप्रेस को साक्षात्कार दिया और उसी संयम से कुरकुराए, सरकार को कोई खतरा नहीं है। लेकिन सरकार में हमारी बात सुनी जाए। प्रशासन के अधिकारी नौकरशाही विवाद पैदा कर रहे हैं। हम मुख्यमंत्री से ही बात करेंगे।’

इसमें लिखा है- कांग्रेस क्या कहना चाहती है। राजनीति की यह पुरानी खटिया क्यों कुरकुर की आवाज कर रही है? हमारी बात सुनो का मतलब क्या है? थोराट और चव्हाण दिग्गज नेता हैं, जिन्हें सरकार चलाने का काफी अनुभव है। हालांकि उन्हें यह भी ध्यान रखना चाहिए कि इस तरह का बड़ा अनुभव शरद पवार और उनकी पार्टी के लोगों को भी है। हालांकि कुरकुर या कोई आहट नहीं दिख रही। 

इसी को लेकर आज शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि कांग्रेस के कुछ नेताओं का इंटरव्यू मैंने पढ़ा, खासकर अशोक चव्हाण जी का। उनको कोई शिकायत है तो वो मुख्यमंत्री जी से बात करें। ये बात प्रशासन और सरकार के संघर्ष की नहीं है। उन्होंने कहा कि पहले ही महाराष्ट्र पर कोरोना वायरस और चक्रवात का बहुत बड़ा संकट है।

वहीं, भाजपा ने भी सामना के संपादकीय का हवाला देते हुए गठबंधन सरकार पर हमला बोला है। भाजपा नेता राम कदम ने कहा कि कहा कि इन्हें (सरकार) महाराष्ट्र में कोरोना की वजह से जान गंवाते लोगों की फिक्र नहीं है, बल्कि कुर्सी की चिंता है। 

बता दें कि राज्य सरकार में शामिल कांग्रेस के ही कुछ नेताओं ने उद्धव सरकार से नाराजगी जताई है। उद्धव सरकार में कैबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण का कहना है कि सरकार में शामिल होने के बाद भी कांग्रेस को उसका जायज हक नहीं मिल रहा है।

अशोक चव्हाण ने सरकार के अधिकारियों पर अवहेलना का आरोप लगाया। चव्हाण ने कहा कि सरकार में कुछ चीजें ठीक नहीं चल रही हैं, इस मुद्दे पर बातचीत के लिए हमने सीएम से वक्त मांगा है। मुझे उम्मीद है कि वह दो दिन में हमें मिलने का समय देंगे।

कांग्रेस के कई मंत्रियों का कहना है कि सरकार में उनकी सुनी नहीं जा रही है। साथ ही कांग्रेस ने फंड को लेकर भी नाराजगी जताई है। कांग्रेस नेता बाला साहेब थोराट भी उद्धव सरकार से नाराजगी जता चुके हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here