सीताराम येचुरी, यूसुफ तारिगामी से मुलाकात करने श्रीनगर के लिए रवाना, सुप्रीम कोर्ट ने दी अनुमति।

सुप्रीम कोर्ट की अनुमति मिलने के बाद सीताराम येचुरी अपने पार्टी सहयोगी एवं पूर्व विधायक मोहम्मद यूसुफ तारिगामी से मुलाकात करने जम्मू-कश्मीर के लिए रवाना हो गए हैं ।

0
397

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की अनुमति मिलने के बाद माकपा महासचिव सीताराम येचुरी (Sitaram Yechury) अपने पार्टी सहयोगी एवं पूर्व विधायक मोहम्मद यूसुफ तारिगामी से मुलाकात करने श्रीनगर (Srinagar) के लिए रवाना हो गए हैं ।

येचुरी ने कहा कि उनकी यात्रा के लिए जो कुछ भी किए जाने की आवश्यकता है, वह वे सब कुछ करेंगे।

येचुरी (Sitaram Yechury) ने संवाददाताओं से कहा, यूसुफ तारिगामी के स्वास्थ्य के बारे में न्यायालय को जानकारी देने की अनुमति मिल गई है। इसके बाद मामला आगे बढ़ेगा। यह अभी अंतरिम आदेश है। मेरे लौटने के बाद मामला आगे बढ़ेगा। येचुरी ने कहा कि वह लौटने के बाद न्यायालय में शपथपत्र दाखिल करेंगे। माकपा नेता इस महीने जम्मू-कश्मीर जाने की दो बार कोशिश कर चुके हैं।

इससे पहले बुधवार को मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi), न्यायमूर्ति एसए बोबडे और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर की पीठ ने सरकार के दावे को दरकिनार करते हुए सवाल किया, आपको क्या दिक्कत हो सकती है यदि देश का कोई नागरिक वहां जाना चाहता है और अपने मित्र तथा पार्टी सहयोगी से मिलना चाहता है। यदि कोई नागरिक देश के किसी हिस्से में जाना चाहता है तो उसे वहां जाने का हक है।

केंद्र की ओर से सालिसीटर जनरल तुषार मेहता ने माकपा नेता सीताराम येचुरी (Sitaram Yechury) की घाटी यात्रा का विरोध करते हुए कहा था कि उनके जाने से जम्मू कश्मीर का मौजूदा माहौल प्रभावित हो सकता है। उन्होंने कहा कि वामपंथी नेता की प्रस्तावित यात्रा राजनीतिक लगती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here