स्मृति मंधाना ने 18 बॉल में जड़ी हाफ सेंचुरी, रेकॉर्ड की बराबरी

0
251

भारत की स्मृति मंधाना ने T20 मैच में अपना शानदार फॉर्म जारी रखते हुए रविवार को मात्र 18 बॉल में ही फिफ्टी जड़ दी। अपनी इस उम्दा पारी की बदौलत मंधाना ने महिला टी20 क्रिकेट इतिहास में सबसे तेज फिफ्टी जड़ने के रेकॉर्ड की बराबरी कर ली है। मंधाना से पहले न्यू जीलैंड की सोफी डेवाइन भी इतनी (18) ही बॉल में फिफ्टी जड़ चुकी हैं।

मंधाना इन दिनों इंग्लैंड की महिला T20 लीग KIA सुपर लीग में खेल रही हैं। मंधाना KIA की वेस्टर्न स्ट्रोम की टीम से खेल रही हैं और उन्होंने लाफबोरोग लाइटनिंग के खिलाफ 18 बॉल में फिफ्टी बनाने का यह रेकॉर्ड अपने नाम किया।

इंग्लैंड की महिला T20 लीग KIA में खेलने वाली स्मृति पहली भारतीय खिलाड़ी हैं। रविवार को वर्षा से प्रभावित इस मैच को 20 ओवर से घटा कर दोनों टीमों के लिए 6-6 ओवर का किया गया। मंधाना वेस्ट स्ट्रोम की 6 ओवर तक चली इस पारी में अंत तक आउट नहीं हुईं और उन्होंने 19 बॉल में 52* रन ठोके, जिसमें 4 छक्के और 5 चौके शामिल थे। ताबड़तोड़ अंदाज में बैटिंग करने वाली मंधाना ने अपनी फिफ्टी भी छक्का जड़कर पूरी की।

न्यू जीलैंड की सोफी डेवाइन की बात करें, तो उन्होंने भारत के ही खिलाफ 2015 में खेले गए इंटरनैशनल महिला टी20 मैच में 18 बॉल में फिफ्टी जड़कर यह रेकॉर्ड अपने नाम किया था। सोफी की इस पारी की बदौलत भारत को हार का सामना करना पड़ा था।

इससे पहले पिछले मैच में जब मंधाना ने KSL में अपना डेब्यू किया था, तो उन्होंने यॉर्कशायर डायमंड्स के खिलाफ 20 बॉल में 48 रन बनाए थे, तब वह KSL के इतिहास में सबसे तेज फिफ्टी बनाने के रेकॉर्ड से चूक गई थीं। लेकिन उन्होंने आज इस रेकॉर्ड को अपने नाम कर लिया। टी20 क्रिकेट में मंधाना ने यह सबसे तेज फिफ्टी जड़ी है। इससे पहले उन्होंने भारत की ओर से इंग्लैंड के खिलाफ खेलते हुए T20 इंटरनैशनल मैच में 25 बॉल में फिफ्टी बनाई थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here