अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने ढाई साल में बोले हैं 10 हजार से अधिक झूठ।

वाशिंगटन पोस्ट (Washington Post) की रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप रोजाना 23 बार झूठ बोलते हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 21 अप्रैल तक ट्रंप ने 828 दिनों में 10,111 बार झूठे दावे किए हैं।

0
708

भारत सरकार ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप (Donald Trump) के विवादास्पद दावे को स्पष्ट तौर पर खारिज कर दिया। भारत का कहना है कि कश्मीर द्विपक्षीय मुद्दा है और इसमें तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं है। साथ ही व्हाइट हाउस (White House) ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस के तुरंत बाद जारी विज्ञप्ति में ‘कश्मीर’ मुद्दे का जिक्र तक नहीं किया। व्हाइट हाउस (White House) ने बयान में कहा, हम शांति, स्थिरता और आर्थिक समृद्धि के लिए पाकिस्तान के साथ काम करना चाहते हैं।

ऐसा पहली बार नहीं है जब ट्रंप (Donald Trump) ने कोई झूठ बोला हो। वह आए दिन अलग-अलग मामलों पर झूठ बोलते रहते हैं। वाशिंगटन पोस्ट (Washington Post) की रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप रोजाना 23 बार झूठ बोलते हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 21 अप्रैल तक ट्रंप ने 828 दिनों में 10,111 बार झूठे दावे किए हैं। इन दावों में ट्रंप की Twitter पर की गई पोस्ट को भी शामिल किया गया है। हैरानी की बात को ये है कि महज तीन दिन (25-27 अप्रैल) में ट्रंप ने 171 झूठे और गुमराह करने वाले दावे किए हैं। राष्ट्रपति ट्रंप के सभी दावों का पांचवां भाग आव्रजन मुद्दे से संबंधित है। इनकी संख्या दिसंबर, 2018 के सरकारी शटडाउन के बाद से बढ़ी है।

इससे पहले वाशिंगटन पोस्ट (Washington Post) ने ट्रंप के कार्यभार संभालने के दो साल बाद एक रिपोर्ट जारी की थी। जिसमें कहा गया था कि ट्रंप (Donald Trump) ने इस दौरान 8,158 झूठे और भटकाने वाले दावे किए हैं। ट्रंप ने आव्रजन पर 1433, विदेश नीति पर 900, व्यापार पर 854, अर्थव्यवस्था पर 790, नौकरियां 755 और अन्य मामलों पर 899 बार झूठ बोला है।

समाचार पत्र ने अपनी रिपोर्ट में ‘फैक्ट चेकर’ के आंकड़ों का हवाला दिया है। यह फैक्ट चेकर राष्ट्रपति द्वारा दिये गए प्रत्येक संदिग्ध बयान का विश्लेषण, वर्गीकरण और पता लगाने का कार्य करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here