तुर्की ने बगदादी की बहन को उत्तरी सीरियाई शहर से पकड़ा, खोल सकती है कई राज।

तुर्की (Turkey) ने हाल ही में मारे गए आतंकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के प्रमुख अबू बक्र अल-बगदादी की बहन को सोमवार को पकड़ लिया है.

0
754

तुर्की (Turkey) ने हाल ही में मारे गए आतंकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के प्रमुख अबू बक्र अल-बगदादी की बहन को सोमवार को पकड़ लिया है. एक सीनियर अधिकारी ने न्यूज एजेंसी Reuters को बताया कि उसे अज़ाज़ के उत्तरी सीरियाई शहर से पकड़ा गया है. उसके पति और बहू को भी हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है. अधिकारी ने बताया कि 65 वर्षीय रसमिया अवध को अजाज के पास एक छापेमारी में पकड़ा गया है.

जब उसे पकड़ा गया, तो वह पांच बच्चे के साथ थी. अधिकारी ने बताया, ‘हमें उम्मीद है कि आईएसआईएस के अंदरूनी कामकाज के बारे में बगदादी की बहन से खुफिया जानकारी मिल सकती है.’

Reuters ने अपनी रिपोर्ट में कहा है, बगदादी की बहन के बारे में स्वतंत्र रूप से बेहद कम जानकारी उपलब्ध है, और समाचार एजेंसी रॉयटर फिलहाल इस बात की पुष्टि करने की स्थिति में नहीं है कि पकड़ी गई महिला वही है या नहीं. बता दें, पिछले महीने जब अमेरिकी सेना ने एक गुफा में बगदादी को घेर लिया था तो उसने खुद को उड़ा लिया था. ISIS ने गुरुवार को ऑनलाइन एक ऑडियो टेप जारी करके पुष्टि की थी कि उनके नेता की मौत हो गई और इसका अमेरिका से बदला लिया जाएगा.

अमेरिका की केंद्रीय कमान के कमांडर जनरल केनैथ मैकेंजी ने वीडियो जारी होने के बाद संवाददाताओं से कहा कि हो सकता है कि आतंकवादी संगठन का नेतृत्व बंटा हुआ हो, और हो सकता है कि इसे ठीक होने में कुछ वक्त लगे लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि यह खतरा नहीं है.

मेकैंजी ने कहा, ‘आईएसआईएस एक विचारधारा है तो इसलिए हम किसी भ्रम में नहीं है कि यह इतने भर से समाप्त हो जाएगी कि हमने बगदादी को खत्म कर दिया है.” उन्होंने कहा,‘‘वह खतरनाक रहेंगे. हमें संदेह है कि वह बदला लेने के लिए किसी प्रकार का हमला करेंगे, हम इसके लिए तैयार है. लेकिन हमें यह बात जाननी होगी कि चूंकि यह एक विचारधारा है तो आप इसे पूरी तरह से कभी समाप्त नहीं कर पाएंगे.’

मैकेंजी ने कहा कि आईएसआईएस और उसके जैसी अन्य संस्थाओं के खिलाफ अमेरिका की दीर्घकालिक सफलता की परिभाषा यह नहीं है कि उस विचारधारा को पूरी तरह से समाप्त कर दिया जाए बल्कि यह है कि इनकी मौजूदगी ऐसे स्तर पर पहुंच जाए कि दुनिया के किसी भी कोने में ये हों, वहां के स्थानीय सुरक्षा बल इनसे निपट सकें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here