Unnao rape victim को जलाकर मारने के मामले में बिहार SO समेत सात पुलिसकर्मी निलंबित

SP ने लापरवाही बरतने के आरोप में बिहार SO के साथ दो उपनिरीक्षक व चार सिपाहियों को निलंबित कर दिया। स्वॉट प्रभारी रहे निरीक्षक विकास पांडेय को बिहार थानाध्यक्ष बनाया गया है।

0
479

Unnao- उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र में जलाकर मारी गई दुष्कर्म पीड़िता (Rape Victim) के मामले में चौथे दिन पुलिस पर कार्रवाई का दौर शुरू हो गया। SP ने लापरवाही बरतने के आरोप में बिहार SO के साथ दो उपनिरीक्षक व चार सिपाहियों को निलंबित कर दिया। स्वॉट प्रभारी रहे निरीक्षक विकास पांडेय को बिहार थानाध्यक्ष बनाया गया है।

निलंबित किए गए बिहार SO को गठित SIT (विशेष जांच दल) में शामिल किया गया था। बिहार मामले से प्रदेश सरकार की बड़ी किरकिरी के बाद SP विक्रांतवीर ने पुलिस कर्मियों पर चाबुक चलानी शुरू कर दी। देर रात SP ने SO बिहार अजय कुमार त्रिपाठी, हल्का प्रभारी उपनिरीक्षक अरविंद सिंह रघुवंशी, इसी थाना के उपनिरीक्षक श्रीराम तिवारी, सिपाही अब्दुल वसीम, आरक्षी पंकज यादव, आरक्षी मनोज, आरक्षी संदीप कुमार को निलंबित कर दिया।

स्वाट प्रभारी रहे विकास पांडेय को SO बिहार की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही अनावरण विवेचना शाखा में तैनात निरीक्षक राजेंद्र सिंह को स्वॉट व सर्विलांस प्रभारी बनाया गया है। एसपी विक्रांतवीर ने बताया कि निलंबित किए गए पुलिस कर्मियों को कार्य के प्रति लापरवाही, अपराध नियंत्रण, घटनाओं व दर्ज एफआईआर में शिथिलिता बरती गई।

जिस पर इनके विरुद्ध कार्रवाई की गई है। बताया कि लापरवाह पुलिस कर्मियों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। बताया कि महिलाओं की सुरक्षा के सभी थानों की पुलिस को कड़ी चेतवानी दी गई है। साथ ही रात्रि गश्त, फुट पेट्रोलिंग और पर और गंभीरता बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here