Maharashtra: शपथ ग्रहण समारोह में मुकेश अंबानी, राज ठाकरे समेत कई बड़ी हस्तियां पहुंची

उद्धव ठाकरे के भाई राज ठाकरे, सुप्रिया सुले, अजित पवार, अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे, कमलनाथ, डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन के साथ-साथ कई बड़े नेता वहां मौजूद हैं।

0
264

Maharashtra: उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के सीएम पद की शपथ ली है। शपथ समारोह के दौरान मुंबई के शिवाजी पार्क में कई बड़े नेता एवं बिजनेस मैन मुकेश अंबानी भी पहुंचे हैं। उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के भाई राज ठाकरे, NCP नेता सुप्रिया सुले, अजित पवार, कांग्रेस नेता अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन के साथ-साथ कई बड़े नेता वहां मौजूद हैं।

मुकेश अंबानी पत्नी नीता और बेटे अनंत के साथ मुंबई के शिवाजी पार्क में पहुंचे हैं। इस दौरान मंच पर उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और अन्य महा विकास अघाड़ी नेता भी मौजूद रहे। इसके साथ ही पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस भी उद्धव ठाकरे के शपथ समारोह में पहुंचे हैं।

वहीं, उद्धव ठाकरे के सीएम पद की शपथ में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह नहीं पहुंच पाए हैं। उन्होंने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को पत्र लिखकर शपथ ग्रहण में न शामिल होने में असमर्थता जताई थी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी ने भी शपथ ग्रहण में न शामिल होने पर असमर्थता जताए हुए उन्हें बधाई दी है। पत्र में उद्धव ठाकरे को बधाई देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि हम एक स्थिर, सेक्युलर और गरीबों के हित वाली सरकार देंगे।

उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के सीएम पद के साथ ही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता छगन चंद्रकांत भुजबल ने मंत्री पद की शपथ ली है। कांग्रेस से बालासाहेब थोरात और नितिन राउत ने मंत्री पद की शपथ ली है। इसके साथ ही एनसीपी नेता जयंत राजाराम पाटिल ने मुंबई में मंत्री पद की शपथ ली है।

शपथ समारोह से पहले पहले महा विकास अघाड़ी का कॉमन मिनिमम प्रोग्राम जारी कर दिया गया है। महा विकास अघाड़ी के प्रेस कांफ्रेंस में शिवसेना के एकनाथ शिंदे ने कहा कि महाराष्ट्र के किसान संकट का सामना कर रहे हैं। यह सरकार किसानों के लिए काम करेगी। यह मजबूत सरकार होगी।

बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना की नींव रखने वाले बाल ठाकरे के बेटे उद्धव का जन्म 27 जुलाई 1960 को बॉम्बे में हुआ था। उनकी शुरुआती शिक्षा बालमोहन विद्या मंदिर से हुई। इसके बाद उन्होंने सर जेजे इंस्टीट्यूट ऑफ एप्लाइड आर्ट से उच्च शिक्षा हासिल की है। जब तक बाल ठाकरे राजनीति में सक्रिय रहे उद्धव उनसे ही राजनीति की बारीकियां सीखते रहे। 2002 में बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के चुनाव में शिवसेना को मिली जोरदार जीत का श्रेय उद्धव ठाकरे को ही मिला था। वहीं, अब राजनीति के लंबे सफर में उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के 18वें मुख्यमंत्री बन गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here